पुलिस वाले की सांस फूलने के इस वीडियो का सच क्या है?

वायरल हो रहे इस वीडियो में पुलिस जवान को कोई कोरोना संक्रमित बताया जा रहा है। वहीं कुछ में ये दावा किया गया कि हमारे पुलिस बल के जवान की तबीयत अचानक खराब हो गई भगवान जल्द उसे सही करें। तबीयत खराब करने का दावा बिहार के जेडीयू नेता द्वारा भी किया गया।

Written by: April 15, 2020 3:36 pm

देशभर में कोरोना को लेकर जंग जारी है, इस बीच सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल हो रहे हैं। न्यूजरूमपोस्ट की कोशिश है कि लोगों को जागरुकता रहे और वो वायरल हो रहे तस्वीरों और वीडियो की हकीकत से रुबरू रहें। इस कड़ी में हम आपको एक वीडियो के बारे में बता रहे हैं जिसे गलत दावों के साथ शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में एक पुलिस का जवान अचानक सांस लेने में तकलीफ महूसस करता हुआ दिखता है। आनफानन में बाकी पुलिसकर्मी उसे एंबुलेंस के जरिए अस्पताल भेजते हैं।

दावा क्या है?
वायरल हो रहे इस वीडियो में पुलिस जवान को कोई कोरोना संक्रमित बताया जा रहा है। वहीं कुछ में ये दावा किया गया कि हमारे पुलिस बल के जवान की तबीयत अचानक खराब हो गई भगवान जल्द उसे सही करें। तबीयत खराब करने का दावा बिहार के जेडीयू नेता द्वारा भी किया गया।

सच क्या है?
जवान कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं है। यह वीडियो महज एक मॉकड्रिल भर है। जानकारी के मुताबिक यह वीडियो बिहार के बेतिया में जिला जेल का है जहां जेल आईजी के निर्देश पर मॉक ड्रिल किया गया था। जेल अधीक्षक रामाधार सिंह के मुताबिक कोरोना को लेकर जागरुकता और कोरोना वायरस से होने वाली परिस्थितियों का सामना करने के लिए एक टीम बनाकर मॉकड्रिल कर वीडियो बनाया गया।

निष्कर्ष
वायरल किया जा रहा दावा गलत है।