Connect with us

दुनिया

US: सत्ता संभालते ही राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पलटे ट्रंप के कई बड़े फैसले

America: बुधवार को अमेरिका (America) में नई सरकार का गठन हो गया है। डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडन (Joe Biden) ने देश के 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। वहीं, कमला हैरिस (Kamala Harris) ने देश की पहली महिला उपराष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली।

Published

on

Joe Biden

नई दिल्ली। बुधवार को अमेरिका (America) में नई सरकार का गठन हो गया है। डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडन (Joe Biden) ने देश के 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। वहीं, कमला हैरिस (Kamala Harris) ने देश की पहली महिला उपराष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। जैसा कि कयास लगाए जा रहे थे कि जो बाइडन राष्ट्रपति बनते ही डोनाल्ड ट्रंप के कई फैसलों को पलट देंगे, ठीक वैसा ही हुआ। राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने के बाद जो बाइडेन ने सीधे ओवल ऑफिस में कामकाज संभाला और एक्शन मूड में नजर आए। आपको बता दें कि अमेरिका के इतिहास में सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति बाइडन ने अपने परिवार की 127 साल पुरानी बाइबिल पर हाथ रखकर पद और गोपनीयता की शपथ ली।

Joe Biden and Kamala Harris

जो बाइडेन ने राष्ट्रपति के रूप में कई ऐसे फैसलों पर हस्ताक्षर कर दिए हैं, जिसकी अमेरिका में लंबे समय से मांग चल रही थी और चुनावी कैंपेन में बाइडेन ने  इसका वादा भी किया था।

मीडिया से बात करते हुए  बाइडेन ने बताया कि उनके लिए प्राथमिकताओं में कोविड-19 संकट, आर्थिक संकट और जलवायु संकट शामिल हैं। इसके बाद बाइडेन ने कार्यकारी आदेश के तहत सभी अमेरिकी नागरिकों के लिए कोरोना से बचने हेतु मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। उनके इस आदेश में पैरिस जलवायु समझौता भी शामिल है, जिसमें अमेरिका एक बार फिर शामिल हो गया है।

इसके अलावा ट्रंप प्रशासन द्वारा जिन मुस्लिम देशों पर बैन लगाया गया था, उसे वापस लिया और विदेश मंत्रालय को जल्द ही वीजा प्रक्रिया शुरू करने का आदेश दिया। इसके साथ ही कोरोना महामारी के दौरान ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से भी दूरी बना ली थी। बाइडेन ने ट्रंप सरकार के इन फैसलों को खारिज कर दिया है।

जानिए शपथ ग्रहण समारोह में कौन-कौन मेहमान हुए शामिल

कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति-बराक ओबामा, जॉर्ज डब्ल्यू बुश और बिल क्लिंटन शामिल हुए। इसके अलावा पूर्व प्रथम महिला-मिशेल ओबामा, लौरा बुश और हिलेरी क्लिंटन भी मौजूद थीं। शपथ ग्रहण समारोह में सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश, संसद के सदस्यों समेत करीब 1,000 लोगों ने शिरकत की।

Advertisement
Advertisement
Advertisement