जब चारों तरफ से घिर गया ड्रैगन तो करने लगा भारत की तारीफ, कहा दुनिया में बड़ा रोल निभाने में सक्षम इंडिया

सीमा विवाद के बाद से भारत और चीन के बीच तनाव जारी है। एक तरफ जहां भारत सरकार ने चीन को सबक सिखाने के लिए कई बड़े कदम उठाए है। वहीं दूसरी ओर चौतरफा घिर ड्रैगन अब भारत की तारीफ के कसीदे पढ़ने लगा है।

Avatar Written by: July 24, 2020 2:59 pm

नई दिल्ली। सीमा विवाद के बाद से भारत और चीन के बीच तनाव जारी है। एक तरफ जहां भारत सरकार ने चीन को सबक सिखाने के लिए कई बड़े कदम उठाए है। वहीं दूसरी ओर चौतरफा घिर ड्रैगन अब भारत की तारीफ के कसीदे पढ़ने लगा है। इसी कड़ी में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने  भारत की खुलकर तारीफ की है।

PM Modi and Jinping

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि भारत को चीन दुनिया में अहम भूमिका निभाने वाला देश मानता है जो अपनी एक स्वतंत्र राजनयिक नीति अपनाने में सक्षम है। वेनबिन ने कहा कि भारत क्षेत्रीय शांति कायम करने और वैश्विक मामलों में सकारात्मक रोल अदा करने में सक्षम है। वेनबिग का यह बयान विदेश मंत्री एस. जयशंकर के उस वक्तव्य के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत कभी भी एलायंस सिस्टम का हिस्सा नहीं होगा।

Chinese Foreign Minister Wang Yi

बता दें कि भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सोमवार को एक वर्चुअल प्रोग्राम को संबोधित करते हुए कहा कि गुट निरपेक्ष होना अब पुरानी बात हो गई है, लेकिन भारत कभी किसी एलायंस सिस्टम का हिस्सा नहीं होगा। चीनी समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स ने योर एशियन टाइम्स के हवाले से यह बात लिखी है। जयशंकर ने यह भी जोर देकर कहा कि बहुपक्षवाद पर सावधानी और निर्भरता का युग समाप्त हो गया है, और देशों को अब गुट निरपेक्षता के बारे में बोलने में अधिक जोखिम उठाने की आवश्यकता है।

jaishankar meeting cancel

चीन ने भारत की नीतियों की सराहना की है तो इसके पीछे भारत-अमेरिका के लगातार मजबूत हो रहे संबंधों को देखा जा सकता है।अमेरिका आज खुलकर भारत के पक्ष में खड़ा हो गया है जबकि कोरोना के बाद से चीन और अमेरिका में खाई लगातार गहराती जा रही है।

china india

इस बीच, भारतीय विदेश मंत्री का यह बयान कि वह किसी एलायंस सिस्टम का हिस्सा नहीं बनेगा, चीन को यह बात पसंद आई है। इसी को देखते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने भारत की राजनयिक और कूटनीति को स्वतंत्र और जिम्मेदार बताया है।