कोरोना को लेकर चीन पर फिर बरसे ट्रंप- 9/11, पर्ल हार्बर से भी बताया घातक अटैक

व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में पत्रकारों से बात करते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, “हम हमारे देश पर हुए सबसे बुरे हमले से गुजरे। यह हम पर हुआ सबसे बुरा हमला है। यह पर्ल हार्बर और वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (पर हुए हमले) से भी अधिक बुरा है।”

Written by: May 7, 2020 10:41 am

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन की ओर इशारा कर कोरोनावायरस महामारी को यूएस पर सबसे बुरा हमला करार दिया। बीबीसी ने राष्ट्रपति ट्रंप के हवाले से कहा कि महामारी ने द्वितीय विश्व युद्ध में पर्ल हार्बर पर जापानी बमबारी और दो दशक पहले हुए 9/11 हमले की तुलना में अमेरिका को अधिक प्रभावित किया।

donald trump and xi jinping

उन्होंने कहा कि कोविड-19 वायरस के प्रकोप से जल्द न निपटने के लिए उनका प्रशासन चीन के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई कर रहा है। वहीं, दूसरी ओर बीजिंग ने कहा कि अमेरिका स्वयं अपने यहां हालत को नहीं संभाल सका और अब महामारी से ठीक तरह से नहीं निपटने के चलते वह ध्यान भटकाना चाहता है।

Coronavirus

पिछले साल के अंत में चीन में महामारी की शुरुआत हुई और धीरे-धीरे इसका प्रसार अन्य देशों तक हुआ। अमेरिका में अब तक कोरोनावायरस संक्रमण के चलते लगभग 73 हजार लोग मारे गए हैं, जबकि यहां कुल संक्रमितों की संख्या 12 लाख से अधिक है।

US President Donald Trump

व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में पत्रकारों से बात करते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, “हम हमारे देश पर हुए सबसे बुरे हमले से गुजरे। यह हम पर हुआ सबसे बुरा हमला है। यह पर्ल हार्बर और वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (पर हुए हमले) से भी अधिक बुरा है।”

उन्होंने आगे कहा, “इसे चीन में ही रोका जा सकता था। इसे स्त्रोत पर ही रूक जाना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया।” महामारी को क्या वह सच में एक युद्ध के रूप में देखते हैं, एक पत्रकार द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “महामारी चीन के बजाय अमेरिका की दुश्मन है।”

donald trump

उन्होंने कहा, “मैं अदृश्य दुश्मन (कोरोनावायरस) को एक युद्ध के रूप में देखता हूं। यह यहां जैसे आई, मुझे यह पसंद नहीं। इसे रोका जा सकता था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।”