अस्पताल ने फ्लाइट का टिकट देकर भेजा भारत, कोरोना संक्रमण के इलाज का 1.5 करोड़ का बिल भी किया माफ

एक तरफ दुनिया में कोरोना वायरस से बड़ी संख्‍या में लोग संक्रमित हो रहे हैं। तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी है जो इस संकट की घड़ी में मसीहा बन कर आते है और जरूरतमंद की मदद करते हैं। ऐसा ही एक मामला दुबई में सामने आया है।

Avatar Written by: July 16, 2020 2:36 pm

नई दिल्‍ली। एक तरफ दुनिया में कोरोना वायरस से बड़ी संख्‍या में लोग संक्रमित हो रहे हैं। तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी है जो इस संकट की घड़ी में मसीहा बन कर आते है और जरूरतमंद की मदद करते हैं। ऐसा ही एक मामला दुबई में सामने आया है।

treatment-of-corona-infection

दरअसल, दुबई में रह रहे तेलंगाना के एक गरीब व्‍यक्ति ओदनला राजेश को करीब तीन महीने पहले कोरोना संक्रमण हो गया था। इसके बाद उसे इलाज के लिए दुबई के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन छुट्टी के समय उसके पास फीस के रुपये नहीं थे। ऐसे में अस्‍पताल ने उसकी 1.52 करोड़ रुपये की फीस माफ कर दी। साथ ही उसे टिकट कराकर भारत भेजा और 10 हजार रुपये भी दिए।

dubai hospital

तेलंगाना के जगीताल में रहने वाले ओदनला राजेश को दुबई के दुबई अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। उनका इलाज वहां करीब 80 दिनों तक चला। जब वह ठीक हो गए तो अस्‍पताल ने उन्‍हें छुट्टी देने से पहले 1.52 करोड़ रुपये का बिल भरने को कहा।

corona logo

राजेश को अस्‍पताल में गल्‍फ प्रोटेक्‍शन सोसाइटी के अध्‍यक्ष गुंदेली नरसिम्‍हा ने भर्ती कराया था। वह लगातार राजेश के संपर्क में थे। उन्‍होंने अस्‍पताल के बिल और राजेश के इलाज के मामले को दुबई स्थित भारतीय वाणिज्‍य दूतावास के अफसर श्रीमानसुथ रेड्डी के सामने पेश किया। इसके बाद वाणिज्‍य दूतावास के एक और अधिकारी हरजीत सिंह ने दुबई अस्‍पताल के मैनेजमेंट को पत्र लिखा। इसमें उन्‍होंने मानवीय आधार पर गरीब राजेश का बिल माफ करने का आग्रह किया। इस पर अस्‍पताल ने उनका आग्रह मान लिया और राजेश का पूरा बिल माफ कर दिया।