Connect with us

दुनिया

Pakistan Political Crisis: इमरान खान का देश के नाम संबोधन, कहा-रविवार को इस मुल्क़ का फैसला होने…

Pakistan Political Crisis: इमरान खान ने कहा कि, रविवार को वोट (पाकिस्तान नेशनल असेंबली में) डाली जाएगी। इस रविवार को इस मुल्क़ का फैसला होने वाला है कि ये मुल्क़ अब किस तरफ जाएगा। क्या वही गुलाम नीति, भ्रष्ट लोग जिन पर 30 साल से भ्रष्टाचार के आरोप हैं।

Published

on

imran khan

नई दिल्ली। पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में बीत कई दिनों सियासी उठापटक देखने को मिल रही है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की कुर्सी पर लगातार खतरा मंडराया हुआ है। एक तरफ जहां इमरान खान के ही पार्टी के सांसद और सहयोगी दलों ने जोर झटका दिया है जिसके बाद माना जा रहा है कि इमरान के पास बहुमत का जादुई आंकड़ा नहीं है। जिसके बाद अब उनकी कुर्सी छीनते नजर आ रही है। मुल्क में जारी सियासी सकंट के बीच प्रधानमंत्री इमरान खान ने आज देश की आवाम से सीधा संवाद किया। इस दौरान इमरान खान ने एक बार फिर कश्मीर का राग अलापा है। इसके अलावा पाकिस्तानी के वजीर-ए-आजम ने पीएम मोदी पर भी बड़ा आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवाज शरीफ से छिप-छिपकर मिलते थे।

PM Imran Khan

इमरान के संबोधन की अहम बाते-

देश के नाम संबोधन में इमरान खान ने कहा कि, रविवार को वोट (पाकिस्तान नेशनल असेंबली में) डाली जाएगी। इस रविवार को इस मुल्क़ का फैसला होने वाला है कि ये मुल्क़ अब किस तरफ जाएगा। क्या वही गुलाम नीति, भ्रष्ट लोग जिन पर 30 साल से भ्रष्टाचार के आरोप हैं।

इमरान खान ने कहा कि, मुझे किसी ने कहा कि आप इस्तीफा दे दीजिए। जो मेरे साथ क्रिकेट खेलते थे उन्होंने देखा है कि मैं आखिरी गेंद तक मुकाबला करता हूं। मैंने हार कभी ज़िंदगी में नहीं मानी। जो भी नतीजा होगा उससे बाद मैं और ज्यादा ताकतवर होकर सामने आऊंगा, जो भी नतीजा हो


उन्होने कहा कि, 8 मार्च को एक विदेशी देश से हमें मैसेज आता है जिसमें बहाना दिया जाता है कि वे पाकिस्तान पर क्यों गुस्सा हैं। और अगर इमरान खान को हटा दिया जाता है तो पाकिस्तान को माफ कर दिया जाएगा। लेकिन अगर ऐसा नहीं होता तो पाकिस्तान को मुश्किल वक़्त का सामना करना पड़ेगा।जब मैंने 25 साल पहले राजनीति शुरू की थी तब कहा था कि न मैं किसी के सामने झुकूंगा, न अपनी कौम को किसी के सामने झुकने दूंगा। अपनी कौम को किसी की गुलामी नहीं करने दूंगा।

इमरान खान ने कहा कि,  मैं भाग्यशाली हूं कि भगवान ने मुझे सब कुछ दिया- प्रसिद्धि, धन, सब कुछ। मुझे आज किसी चीज की ज़रूरत नहीं है, उसने मुझे सब कुछ दिया जिसके लिए मैं बहुत आभारी हूं। पाकिस्तान मुझसे सिर्फ 5 साल बड़ा है, मैं आजादी के बाद पैदा होने वाले देश की पहली पीढ़ी से हूं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement