कोरोना से मची तबाही के बीच इजरायल ने किया वैक्सीन बनाने का दावा

Written by: May 5, 2020 2:07 pm

नई दिल्ली। कोरोना से पूरी दुनिया मे तबाही मची हुई है। अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश की हालत खराब है, सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में अमेरिका सबसे ऊपर है। ऐसे में इजरायल ने कोरोना की वैक्सीन बनाने का दावा किया है। आपको बता दें कि इजरायल के रक्षा मंत्री नफताली बेन्नेट ने दावा किया है कि डिफेंस बायोलॉजिकल इंस्‍टीट्यूट ने कोरोना वायरस का टीका बना लिया है।

Oxford University Corona Vaccine

कोरोना के इलाज को लेकर इस कदम को महत्वपूर्ण बताते हुए बेन्नेट ने कहा कि, इंस्टीट्यूट ने कोरोना वायरस के एंटीबॉडी को तैयार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। इस दवा को पेटेंट कराने को लेकर बेन्नेट ने कहा कि, वैक्सीन को तैयार करने का चरण पूरा हो चुका है और शोधकर्ता इसे पेटेंट कराने की तैयार कर रहे हैं। साथ ही इस वैक्सीन की व्यापक पैमाने पर उत्पादन की तैयारी भी हो रही है।

इजरायल के रक्षा मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि वैक्सीन विकसित कर ली गयी है और अब इसे पेटेंट कराने की प्रक्रिया जारी है। कुछ ही दिनों में अंतरराष्‍ट्रीय दवा कंपनियों से इसके व्‍यवसायिक स्‍तर पर उत्‍पादन के लिए बातचीत शुरू की जाएगी। बेन्‍नेट ने कहा, ‘इस शानदार सफलता के लिए मुझे इंस्‍टीट्यूट के स्‍टाफ पर गर्व है।’ हालांकि इजरायल ने ये नहीं बताया है कि इस वैक्सीन का इंसानों पर ट्रायल किया गया है या नहीं। बेन्‍नेट ने कहा कि इजरायल अब अपने नागरिकों के स्‍वास्‍थ्‍य और अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से खोलने की प्रक्रिया में संतुलन बनाने की कोशिश कर रहा है।

Israel Prime Minister Benjamin Netanyahu

रक्षा मंत्री के मुताबिक यह दवा एंटीबॉडी मोनोक्‍लोनल तरीके से कोरोना वायरस पर हमला करती है और संक्रमित लोगों के शरीर के अंदर ही कोरोना वायरस का खात्‍मा कर देती है। गौरतलब है कि इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल रिसर्च प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के कार्यालय के अंतर्गत आता है। रक्षा मंत्री ने इंस्टीट्यूट का दौरा किया और इसके बाद नतीजों को देखते हुए वैक्सीन के तैयार होने का एलान किया। रक्षा मंत्री के मुताबिक यह एंटीबॉडी वैक्सीन मोनोक्लोनल तरीके से कोरोना वायरस पर हमला कर वायरस को शरीर के अंदर ही खत्म कर देती है।

corona medicine

बता दें कि कोरोना से जूझ रही दुनिया में इस वायरस से मरने वालों की संख्या दो लाख 52 हजार से ज्यादा हो गई है और संक्रमितों की संख्या 36 लाख 45 हजार से ज्यादा हो गई है। जबकि करीब 12 लाख लोग ठीक हो चुके हैं। दुनिया में सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में मृतकों की संख्या 70 हजार के करीब पहुंच गई है और 12 लाख 12 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।