Connect with us

दुनिया

Yakima Firing: अब अमेरिका के याकिमा शहर में बंदूकधारी ने 21 लोगों को मारी गोली, कई की मौत

पुलिस के मुताबिक गोलीबारी के बाद बंदूकधारी शख्स मौके से फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक बंदूकधारी ने सर्किल के स्टोर के बाहर और भीतर गोलीबारी की। गोलीबारी में मारे और घायल हुए लोगों के मुताबिक उनकी बंदूकधारी से किसी तरह की अदावत भी नहीं थी।

Published

yakima city firing 3

याकिमा। अमेरिका में गोलीबारी कर लोगों की जान लेने का सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है। ताजा घटना वॉशिंगटन राज्य के याकिमा शहर में हुई है। यहां एक स्टोर में गोलीबारी की घटना हुई। इस गोलीबारी में 3 लोगों की मौत हो गई है। तमाम अन्य घायल हैं। इससे पहले अमेरिका में इसी हफ्ते गोलीबारी की घटना में 11 लोगों की जान गई थी। याकिमा शहर की पुलिस के मुताबिक एक बंदूकधारी स्टोर में घुस आया। वहां उसने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। 21 लोगों को गोली लगी। इनको अस्पताल ले जाया गया, जहां 3 घायलों की मौत हो गई। याकिमा शहर में करीब 1 लाख लोग रहते हैं।

yakima city firing 2

याकिमा शहर में गोलीबारी करने वाले हमलावर की फोटो।

पुलिस के मुताबिक गोलीबारी के बाद बंदूकधारी शख्स मौके से फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक बंदूकधारी ने सर्किल के स्टोर के बाहर और भीतर गोलीबारी की। गोलीबारी में मारे और घायल हुए लोगों के मुताबिक उनकी बंदूकधारी से किसी तरह की अदावत भी नहीं थी। याकिमा पुलिस की तमाम टीमें गोलीबारी करने वाले हमलावर की तलाश में जुटी हैं। सारे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले जा रहे हैं। पुलिस का दावा है कि वो हर हाल में बंदूकधारी को तलाश लेगी। लगातार हो रही गोलीबारी की घटनाओं ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के बंदूक विरोधी कानून पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं। पिछले साल बाइडेन ने कानून पर दस्तखत करने के बाद दावा किया था कि इससे अमेरिका में गोलीबारी की घटनाओं पर प्रभावी रोक लगेगी।

yakima city firing 1

इसी हफ्ते अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्य में भी दो जगह गोलीबारी हुई थी। बीते मंगलवार को कैलिफोर्निया के हाफ मून बे में गोलीबारी की घटनाओं में 11 लोगों की जान गई थी। इसमें कुछ लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए थे। हाफ मून बे में गोलीबारी की एक घटना उस जगह हुई थी, जहां लोग चीन का नया साल मनाने के लिए इकट्ठा हुए थे। एक घटना के बाद हमलावर ने भी खुदकुशी कर ली थी। इन हमलों का कारण भी अब तक पुलिस जान नहीं सकी है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement