Connect with us

दुनिया

Britain: ब्रिटेन में शिव मंदिर पर हुए हमले को लेकर मुस्लिम काउंसिल ने की ऐसी टिप्पणी,भड़के हिंदुओं ने लगाई जमकर क्लास

Published

on

नई दिल्ली। भारत-पाकिस्तान के मैच के बाद ब्रिटेन के शहर लीस्टर में स्थित शिव मंदिर को उग्रवादियों द्वारा निशाना बनाए जाने के बाद उपजा तनाव थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। तनाव का पारा अपने चरम पर है। ब्रिटेन में स्थित भारतीय उच्चायुक्त ने भी मामले की निंदा की है और आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। उधर, ब्रिटेन में मुस्लिम काउंसिल ने पूरे मामले में दक्षिणपंथी विचारधारा वाले हिंदुओं पर ठिकरा फोड़ा है। मुस्लिम काउंसिल ने कहा कि, ‘कुछ दक्षिणपंथी विचारधारा वाले इस मसले के सहारे मुस्लिमों को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं, जबकि हमारी मांग यह है कि पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच हो और आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।

भारत से लेकर ब्रिटेन तक मुस्लिम कट्टरपंथियों का आतंक, लीस्टर शहर में हिन्दू मंदिर पर हमला, हिन्दू महिलाएं और बच्चे मंदिर के अंदर बने रहे ...

मुस्लिम काउंसिल की टिप्पणी

बता दें कि इस संदर्भ में मुस्लिम काउंसिल के अध्यक्ष मीर जारा ने पूरे मामले की निंदा की है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग पूरे मामले के सहारे मुस्लिम सहित अन्यत्र अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को निशाना बना रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि हम शिव मंदिर पर हुए हमले की निंदा और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हैं।

जारा मोहम्मद ने आगे कहा कि मगर कुछ लोग इस पूरे मसले के सहारे समाज को विभाजित करने की कोशिश कर रहे हैं। समाज में नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। धर्म के आधार पर लोगों को बांटने की कोशिश कर रहे हैं, जिसकी हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। उधर, पुलिस ने भी उक्त प्रकरण को संज्ञान में लेने के बाद आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। उधर, उपरोक्त प्रकरण पर जिस तरह की निंदात्मक टिप्पणी मुस्लिम काउंसिल की ओर से की गई है, उस पर तरह-तरह के रिएक्शन देखने को मिल रहे हैं। आइए, अब आगे हम आपको कुछ ऐसे ही रिएक्शन दिखाते हैं।

बढ़ाई गई मंदिर की सुरक्षा, एक्शन में पुलिस

वहीं, उक्त प्रकरण के प्रकाश में आने के बाद मंदिर की सुरक्षा बढ़ा दी गई और अब तक इस मामले में शामिल 47 लोगों को दबोचा जा चुका है। उधर, पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उक्त कुकृत्य में शामिल अन्यत्र लोगों को चिन्हित करने की कवायद शुरू कर चुकी है। ध्यान रहे कि यह कोई पहली मर्तबा नहीं है कि जब लीस्टर शहर में हिंदू मुस्लिम विवाद का मामला प्रकाश में आया है, बल्कि इससे पहले भी कई मामले प्रकाश में आ चुके हैं। खासकर भारत-पाकिस्तान मैच के दौरान तनाव का स्तर अपने चरम पर पहुंच जाता है, लेकिन इस बार स्थिति कुछ ज्यादा ही दुरूह हो चुकी है। अब ऐसे में यह पूरा माजरा आगामी दिनों में क्या रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.कॉम

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement