Connect with us

दुनिया

ARY News Off Air: पाक सरकार की खुली पोल तो मीडिया चैनल के प्रसारण पर लगाया बैन, अब हर तरफ हो रही जमकर आलोचना

ARY News Off Air: पाक ने मीडिया पर हमला बोलते हुए उनकी स्वतंत्रता छीनने की करने की कोशिश की है। बता दें समाचार चैनल एआरवाई न्यूज एक बड़ा प्राइवेट चैनल है जो बीते समय से पाक सरकार की सरकारी नीतियों की पोल खोल रहा था

Published

on

नई दिल्ली। पाकिस्तान सरकार कुछ न कुछ ऐसा करती रहती है जिससे वो विवादों में बनी रहे। अब पाकिस्तान सरकार ने मीडिया की स्वतंत्रता का ही हनन करने का फैसला कर लिया है। पाक सरकार अब मीडिया चैनल की बुलंद आवाज को भी दबाने की कोशिश कर रही है। दरअसल पाक सरकार ने समाचार चैनल एआरवाई न्यूज को ऑफ एयर करने का फरमान सुना डाला है। उन्होंने चैनल का प्रसारण भी रोक दिया है। चैनल पर सरकार की नीतियों के विरोध बुलेटिन चलाने का आरोप लगा है। अब चैनल पाक सरकार की रेडार में आज चुका है।

पाक सरकार की पोल खोल रहा था चैनल

पाक ने मीडिया पर हमला बोलते हुए उनकी स्वतंत्रता छीनने की करने की कोशिश की है। बता दें समाचार चैनल एआरवाई न्यूज एक बड़ा प्राइवेट चैनल है जो बीते समय से पाक सरकार की सरकारी नीतियों की पोल खोल रहा था। ये बात कहा पाक सरकार को रास आने वाली है। पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण ने चैनल का प्रसारण रोकने का तुगलकी फरमान सुना दिया। बताया ये भी जा रहा है कि चैनल का संबंध तहरीक-ए-इंसाफ प्रमुख इमरान खान से मधुर और शहबाज शरीफ सरकार के बीच की तल्खियां हैं जो अब बड़े विवाद का रूप ले चुकी हैं।

आम जनता के निशाने पर आई सरकार

चैनल को ऑफ एयर होने के बाद सरकार आम जनता के निशाने पर आ चुकी है। सरकार के इस फैसले की जमकर आलोचना हो रही है। इसी बीच पीएमएलएन के नेता हिना परवेज ने सोशल मीडिया के जरिए पाक सरकार का सपोर्ट किया है। उन्होंने लिखा- पाक सरकार और सेना के खिलाफ झूठा प्रोपेगेंडा चलाने वाले चैनल के खिलाफ निलंबन के अलावा कोई विकल्प नहीं बचता है। हालांकि बाद में नेता ने ट्वीट डिलीट करना पड़ा क्योंकि यूजर्स ने उन्हें आड़े हाथ लेना शुरू कर दिया। पाक सरकार के इस फैसले की आलोचना हर तरफ हो रही है। अभी तक इस्लामाबाद,हैदराबाद, फैसलाबाद,कराची,लाहौर समेत कई शहरों में चैनल का प्रसारण रुक चुका है।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement