कोरोना को लेकर नया खुलासा! घर पर रहकर भी हो सकते हैं संक्रमित, हो जाएं सावधान

दुनिया का लगभग हर देश कोरोना से जूझ रहा है। वैश्विक महामारी से दुनिया भर में अब तक 6.15 लाख से अधिक लोग अपनी जान गवां चुके हैं जबकि इसके संक्रमितों का आंकड़ा 1.4 करोड़ से अधिक हो गयी है।

Avatar Written by: July 22, 2020 8:10 pm

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोनावायरस पूरी दुनिया में अपना कहर लगातार बरपता जा रहा है। विश्व में संक्रमितों और मृतकों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। दुनिया का लगभग हर देश कोरोना से जूझ रहा है। वैश्विक महामारी से दुनिया भर में अब तक 6.15 लाख से अधिक लोग अपनी जान गवां चुके हैं जबकि इसके संक्रमितों का आंकड़ा 1.4 करोड़ से अधिक हो गयी है।

corona logo

वहीं कोरोना संक्रमण के फैलने को लेकर अलग-अलग देशों के वैज्ञानिकों ने कई तरह के दावे किये हैं। हाल ही में वैज्ञानिकों के एक दल के कहने पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने ये माना था कि वायरस के हवा के जरिए फैलने के सबूत मिले हैं। इस बीच अब दक्षिण कोरिया के वैज्ञानिकों ने बड़ा दावा किया है कि घर में मौजूद सामानों से और बाहर से आने वाले सामानों के जरिए भी कोरोना फैलने की पूरी आशंका है। रिसर्च में कहा गया है कि बाहर से आने वाले सामानों को अच्छे से डिसइनफेक्ट करना बेहद ज़रूरी है।

दक्षिण कोरिया की इस स्टडी को यूएस सेंटर्स फॉर डिजीस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने 16 जुलाई को प्रकाशित किया है। कोरिया सेंटर्स फॉर डिजीस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (केसीडीसी) के निदेशक जियोंग ईयून कीयोंग की टीम ने एक रिसर्च में ये दावा किया है। यह रिपोर्ट 5706 शुरुआती कोरोना मरीजों और उसके बाद संक्रमित हुए 59 हजार लोगों पर आधारित है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि प्रति 100 कोरोना मरीजों में सिर्फ 2 ऐसे हैं जिन्हें गैर-घरेलू संपर्क की वजह से कोरोना हुआ है। जबकि हर 10 मरीज में 1 मरीज को कोरोना का संक्रमण उनके घर के सदस्यों के जरिए हुआ है।

New Zealand Corona

इस रिसर्च में दावा किया गया है कि बहुत से मामलों में बाहर से आने वाले सामान के जरिए संक्रमण की बात सामने आई है। हैलीम यूनिवर्सिटी कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. चो यंग जून ने कहा कि 9 साल से कम उम्र के बच्चों के संक्रमित होने की आशंका बेहद कम होती है। बच्चे ज्यादातर एसिम्टोपमैटिक होते हैं यानी इनमें कोरोना संक्रमण के लक्षण नहीं दिखते। इसलिए इनमें कोरोना को पहचानने में शुरुआती दिक्कतें आती हैं।

डॉ. चो यंग ने चेतावनी दी कि कोरोनावायरस किसी भी उम्र के इंसान को नहीं छोड़ रहा है। वह हर किसी को अपना शिकार बना रहा है। घर में रहने से ही आप सुरक्षित नहीं रह सकते। आपको घर में भी सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखना होगा। बचाव के सारे तरीके अपनाने होंगे।