प्रशांत किशोर के सहारे बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में ‘आप’, ‘दागी’ लालू की पार्टी से हो सकता है गठजोड़

दिल्ली विधानसभा चुनाव में शानदार जीत दर्ज करने के बाद आम आदमी पार्टी अब बिहार चुनावों की तैयारी में है। उसकी योजना राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल करने की भी है।

Written by: February 14, 2020 12:18 pm

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में शानदार जीत दर्ज करने के बाद आम आदमी पार्टी अब बिहार चुनावों की तैयारी में है। उसकी योजना राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल करने की भी है। आम आदमी पार्टी ने पिछली बार गोवा और पंजाब के विधानसभा चुनाव लड़े थे। पंजाब में उसे  24 प्रतिशत वोट मिले थे। मगर आप यहां 117 में से महज 20 सीटें जीत पाई थी। इसी तरह गोवा में उसे 6.3 प्रतिशत वोट मिले और वह एक भी सीट जीतने में नाकामयाब रही।

PRASHANT KISHORE

इस साल के आखिर में बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं। आप बिहार में चुनाव लड़ सकती है। यहां राजद और कांग्रेस दोनों ही बहुत अच्छी स्थिति में नहीं है। नीतीश कुमार की जदयू और भाजपा की गठबंधन सरकार के चलते विपक्ष की जगह खाली है। नीतीश के सलाहकार रहे प्रशांत किशोर आप के सलाहकार बने हुए हैं। ऐसे में आम आदमी पार्टी बिहार में चुनाव लड़ सकती है।

इस बात की भी संभावना है कि आप लालू की पार्टी आरजेडी के साथ गठजोड़ भी कर सकती है। राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा पाने के लिए आप को चार राज्यों में 6 प्रतिशत से अधिक वोट चाहिए। दिल्ली पंजाब और गोवा में उसे 6 फ़ीसदी से अधिक वोट मिल चुका है। ऐसे में बिहार पर उसकी नज़र बनी हुई है।

prashant kishor and nitish kumar

नीतीश कुमार के सलाहकार रहे प्रशांत किशोर आप के इस प्लान में बेहद मददगार साबित हो रहे हैं। प्रशांत किशोर के पास बिहार के जिले ही नहीं ब्लॉक और तहसील स्तर तक के न सिर्फ आंकड़े मौजूद हैं।सूत्र बताते हैं कि बल्कि जदयू के महासचिव रहते ही उन्होंने राज्य में सूचनाओं का एक समानांतर ढांचा भी तैयार कर लिया है।