New Parliament Row: नए संसद के उद्घाटन के बहिष्कार को लेकर विपक्ष पर भड़के अमित शाह, ऐसे दिया करारा जवाब

New Parliament Row: अमित शाह ने विपक्षी दलों को उदाहरण देते हुए जमकर क्लास लगाई। उन्होंने बताया कि, झारखंड विधानसभा का भूमिपूजन हेमंत सोरेन ने किया। उन्होंने भी राज्यपाल को नहीं बुलाया। असम में तरुण गोगई ने विधानसभा का उद्घाटन किया। उस वक्त भी राज्यपाल को नहीं बुलाया। मणिपुर विधानसभा का लोकापर्ण मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने किया। राज्यपाल नहीं थे।

Avatar Written by: May 25, 2023 7:05 pm
amit shah 123

नई दिल्ली। विपक्ष द्वारा नए संसद भवन के उद्घाटन समारोह के बहिष्कार को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भड़क गए है। उन्होंने विपक्ष के बहिष्कार को ओछी सियासत बताया है। शाह ने कहा कांग्रेस के बहिष्कार करने से कुछ नहीं होगा। बता दें कि कांग्रेस समेत 21 दलों ने नए संसद भवन के उद्घाटन समारोह का बहिष्कार करने का ऐलान किया। असम के गुवाहाटी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस पर वार किया। उन्होंने कहा, पीएम मोदी आजादी के अमृत महोत्सव के वक्त में देश की संसद का नया भवन 28 मई को लोकापर्ण करने वाले है। देश को समर्पित करने वाले है। कांग्रेस पार्टी और उनके साथी ओछी राजनीति का एक उदारण पेश करके उसका बहिष्कार कर बहाना बना रहे है। कि महामहिम राष्ट्रपति इसका उद्घाटन करें। मैं आज असम के हजारों युवाओं, लाखों लोगों से पूछना चाहता हूं। मेरे पास सार्वजनिक सूचनाओं से एकत्रित कुछ जानकारी है। मैं कांग्रेस पार्टी से पूछना चाहता हूं। छत्तीसगढ़ में विधानसभा का भूमि पूजन सोनिया गांधी, राहुल गांधी और वहां के मुख्यमंत्री ने किया। उस वक्त राज्यपाल का थी। वो आदिवासी थी। अपने नहीं बुलाया।

Amit Shah

इस दौरान अमित शाह ने विपक्षी दलों को उदाहरण देते हुए जमकर क्लास लगाई। उन्होंने बताया कि, झारखंड विधानसभा का भूमिपूजन हेमंत सोरेन ने किया। उन्होंने भी राज्यपाल को नहीं बुलाया। असम में तरुण गोगई ने विधानसभा का उद्घाटन किया। उस वक्त भी राज्यपाल को नहीं बुलाया। मणिपुर विधानसभा का लोकापर्ण मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने किया। राज्यपाल नहीं थे। आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू और तमिलनाडु में सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह और मुख्यमंत्री ने किया। कांग्रेस के मित्रों से पूछना चाहता हूं जब आप लोग करते हो, तब सबकुछ ठीक होता है। लेकिन जब भाजपा और पीएम मोदी करते है। आपका इसका बहिष्कार करते हो।

अमित शाह ने देश की जनता ने 2-2 बार दो तिहाई बहुमत से नरेंद्र मोदी को चुनकर प्रधानमंत्री बनाया। लोगों ने नरेंद्र मोदी को चुनकर प्रधानमंत्री बनाया है। मगर एक कांग्रेस पार्टी और उनका राज परिवार प्रधानमंत्री को स्वीकारने के लिए 9 साल तक तैयार नहीं है। मैं आज कांग्रेस के नेताओं को कहना चाहता हूं आपके बहिष्कार करने से कुछ नहीं होता। पूरे देश की जनता का आशीर्वाद पीएम मोदी के साथ है।