Connect with us

देश

सीमा विवाद के बीच केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, लद्दाख में लगाए जाएंगे 54 मोबाइल टॉवर

चीन से चल रहे सीमा विवाद के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है जिसके तहत लद्दाख में अब संचार नेटवर्क मजबूत होगा। सरकार ने यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड के तहत 54 नए मोबाइल टॉवर लगाने को मंजूरी दे दी है।

Published

on

indo china border

नई दिल्ली। चीन से चल रहे सीमा विवाद के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है जिसके तहत लद्दाख में अब संचार नेटवर्क मजबूत होगा। सरकार ने यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड के तहत 54 नए मोबाइल टॉवर लगाने को मंजूरी दे दी है। नुब्रा में 7, लेह में 17, जंसकार में 11, कारगिल में 19 और डेमचोक में मोबाइल टावर लगाए जाएंगे।

Ladakh BJP MP Jamyang Tsering Namgyal

लद्दाख सांसद ने दूरसंचार मंत्री का जताया आभार

लद्दाख के सांसद जाम्यांग सेरिंग नामग्याल ने कहा कि लद्दाख में मिशन डिजिटल के तहत 54 नए मोबाइल टॉवर लगाए जाएंगे। सांसद ने कहा कि 54 नए मोबाइल टॉवर की मंजूरी को लेकर उन्होंने केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद से फोन पर बातचीत कर केंद्र का आभार जताया है।

Army Chief General MM Naravane

सेना प्रमुख लद्दाख दौरे से दिल्ली वापस लौटे

वहीं सेना प्रमुख एमएम नरवणे लद्दाख दौरे से दिल्ली वापस लौट आए है। उन्होंने 2 दिन लद्दाख में सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा की। साथ ही वो चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत को लद्दाख के हालात की जानकारी देंगे। सेना प्रमुख सरकार को भी हालात की जानकारी देंगे।

लद्दाख में शक्तिशाली टी-90 भीष्म टैंक तैनात

इसी बीच भारत ने लद्दाख में शक्तिशाली टी-90 भीष्म टैंक को तैनात किया है। यानी लद्दाख में भारतीय सेना ने अपने सबसे मजबूत हथियार से चीन को चुनौती दी है। सीमा पर लगभग 2 महीने से चीन के साथ विवाद चल रहा है। चीन ने अपनी सीमा में टैंक, तोप, बख्तरबंद गाड़ियों और सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है। इसका जवाब देने के लिए इसी महीने भीष्म टैंक को लद्दाख के मोर्चे पर लाया गया है।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement