Connect with us

देश

UP: किसानों की आय दोगुनी करने के लिए केन्द्र और राज्य सरकार कर रही है लगातार प्रयास

Yogi Government: मुख्यमंत्री योगी(Chief Minister Yogi Adityanath) ने कहा कि प्रदेश के किसान बेहद मेहनती हैं। उन्होंने कोरोना काल के दौरान भी मेहनत में कोई कमी नहीं की। किसानों की मेहनत से आज देश और प्रदेश में अनाज का प्रचुर भण्डार मौजूद है।

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां राज भवन में तीन दिवसीय प्रादेशिक फल, शाकभाजी एवं पुष्प प्रदर्शनी-2021 का शुभारम्भ किया। यह प्रदर्शनी 06 से 08 फरवरी, 2021 तक आयोजित की गयी है। मुख्यमंत्री ने राजभवन में इस प्रदर्शनी के आयोजन के लिए राज्यपाल जी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जैविक खेती में अपार सम्भावनाएं मौजूद हैं। इसे बढ़ावा देना वर्तमान समय की मांग है। जैविक खेती अपनाने से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के किसानों की आय को दोगुना करने के सपने को पूरा किया जा सकता है। केन्द्र एवं राज्य सरकार किसानों की आय दोगुनी करने के लिए लगातार प्रयास कर रही हैं। किसानों को डेढ़ गुना एमएसपी दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 4 वर्ष पूर्व जब वे अपने कार्यकाल की प्रथम प्रदर्शनी में राज भवन आए थे, तब किसानों, पुष्प उत्पादकों इत्यादि ने उस समय की आवश्यकताओं के अनुसार अच्छा प्रदर्शन किया था। 4 वर्ष के दौरान अब आवश्यकताओं के साथ-साथ प्राथमिकताएं भी बदली हैं। आज की प्रदर्शनी में पारम्परिक फल, सब्जी, पुष्प फसलों के प्रदर्शन के अलावा जैविक फल, सब्जी, पुष्प का भी प्रदर्शन किया गया है।

CM Yogi Government

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि किसानों की आय बढ़ाने बढ़ाने में कृषि की लागत कम करते हुए उत्पादन में बढ़ोत्तरी तथा कृषि विविधीकरण की महत्वपूर्ण भूमिका है। इससे किसानों की आय तेजी से बढे़गी। उन्होंने कहा कि जनपद झांसी की एक छात्रा बुन्देलखण्ड क्षेत्र में स्ट्रॉबेरी की खेती को बढ़ावा दे रही है। गत माह वहां स्ट्रॉबेरी महोत्सव आयोजित किया गया। बुन्देलखण्ड की धरती पर स्ट्रॉबेरी महोत्सव का आयोजन देश व प्रदेश के लिए नया सन्देश है। सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में बुन्देलखण्ड में स्ट्रॉबेरी की सफलतापूर्वक खेती के लिए झांसी की इसी छात्रा गुरलीन चावला के प्रयासों की सराहना की है। एक अन्य किसान का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि उसने डेढ़ एकड़ क्षेत्र में स्ट्रॉबेरी की फसल उगाई, जिसमें उसकी लागत 06 लाख रुपए आयी, जबकि फसल 40 लाख रुपए में बिकी। इस प्रकार विविधीकरण के माध्यम से उस किसान को 34 लाख रुपए की आय हुई। किसान इस प्रकार के नए प्रयोगों और कृषि विविधीकरण से अपनी आय में उल्लेखनीय बढ़ोत्तरी कर सकते हैं। उन्होंने ड्रैगन फ्रूट और ब्लैक राइस उगाने वाले किसानों का भी उल्लेख किया। ब्लैक राइस उगाने वाले किसानों को उनकी उपज का मूल्य 700 रुपए प्रति किलो मिल रहा है।

Yogi UP

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के किसान बेहद मेहनती हैं। उन्होंने कोरोना काल के दौरान भी मेहनत में कोई कमी नहीं की। किसानों की मेहनत से आज देश और प्रदेश में अनाज का प्रचुर भण्डार मौजूद है। प्रधानमंत्री मोदी के ‘आत्म निर्भर भारत’ अभियान में किसान अपना भरपूर योगदान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान प्रदेश में 119 चीनी मिलों का संचालन किया गया। गन्ना किसानों की मेहनत से आज भारत प्रचुर मात्रा में चीनी का निर्यात कर रहा है। इसमें उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों का भी बड़ा योगदान है। इस अवसर पर राज्यपाल जी एवं मुख्यमंत्री जी द्वारा एक स्मारिका का विमोचन किया गया।

Yogi UP Anandiben Patel pic

उन्होंने प्रदर्शनी में लगाए गए फल, शाकभाजी एवं पुष्प स्टॉलों का अवलोकन भी किया। कार्यक्रम के दौरान उद्यान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीराम चौहान, मुख्य सचिव आरके तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राज्यपाल महेश कुमार गुप्ता, अपर मुख्य सचिव उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण मनोज सिंह सहित वरिष्ठ अधिकारीगण एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Advertisement
Advertisement
देश5 hours ago

Gujarat News : ‘बोला विरमगाम, योगी जी को जय श्रीराम’, रोड शो में केसरिया फहरा, यूपी के बाबा का जोरदार इस्तकबाल

Imran Khan 123
दुनिया5 hours ago

Imran Khan : रावलपिंडी में जनसभा के दौरान नवाज परिवार पर बरसे इमरान खान, पाकिस्तान की सभी विधानसभाओं से PTI के इस्तीफे का किया ऐलान

देश6 hours ago

Politics : रेवड़ी संस्कृति’ की राजनीति बंद हो, शिक्षा केन्द्रित राजनीति नए भारत का मुद्दा होगी : याज्ञवल्क्य शुक्ल

देश7 hours ago

RTI On Imam’s Salary : ‘हिंदुओं के साथ विश्वासघात’ है इमामों को सैलरी दिया जाना, दिल्ली सरकार के फैसले पर क्यों भड़के केंद्रीय सूचना आयुक्त?

देश8 hours ago

Gujarat: गुजरात चुनाव के बीच वनवासी व आदिवासी मसले पर जंग, राहुल के बयान से गरमाई सियासत; जानिया क्या है पूरा बवाल

Advertisement