Connect with us

देश

गरीबों को पहुंचा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कॉल, पूछा खाते में पैसा आ गया कि नहीं

सावित्री देवी ने जैसे ही फोन रिसीव की। उधर से आवाज आई हैलो मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ बोल रहा हूं। महिला ने हड़बड़ा कर बोली, प्रणाम

Published

on

yogi-adityanath

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनता के साथ लगातार संवाद करने के लिए जाने जाते हैं। अपने जनसंवाद में वो काफी सहज तरीके से आम लोगों से बात करते हैं।

CM Yogi Adityanath

ऐसा ही एक जनसंवाद हाल ही में उन्होंने किया जब सोमवार की सुबह साढ़े दस बजे सावित्री देवी के मोबाइल की घंटी अचानक से घनघनाने लगी। सावित्री देवी ने जैसे ही फोन रिसीव की। उधर से आवाज आई हैलो मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ बोल रहा हूं। महिला ने हड़बड़ा कर बोली, प्रणाम। उन्होंने इसके बाद उस महिला के गांव में साफ-सफाई, रोजगार व राशन के विषय में एक-एक कर जानकारी ली। महिला बोली नाहीं साहब गांव में सब कुछ ठीक बा। सबके काम व राशन मिलेला। पूछा कि खाते में पैसा भेज दिया हूं मिला है कि नहीं। महिला बोली पैसा खाते में आ गइल बा।

yogi pc corona

पथरदेवा विकास खंड क्षेत्र की मुसहर बाहुल्य ग्राम पंचायत मलवाबर में रहने वाली सावित्री देवी पत्नी स्व. ओमप्रकाश मनरेगा जॉबकार्ड धारक है। इनका जॉबकार्ड संख्या दो हैं। अपने एक साल के मनरेगा में इन्होंने 98 दिन काम किया है।

इनको 84 दिन के काम का 15288 रुपये का भुगतान पहले हो चुका है। बाकी जो भी भुगतान रह गया था वो 14 दिन का भुगतान 2548 रुपये था, जिसको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ने लखनऊ से बैठकर एक क्लिक में पैसा खाते में भेज दिया।

yogi-adityanath

इसके बाद मलवाबर के श्रमिक सत्यनारायण मुसहर से भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद बात करने वाले थे, लेकिन वक्त की कमी की वजह से यह संभव नहीं हो सका। श्रमिक सत्यनारायण के मन में मुख्यमंत्री से बात नहीं कर पाने का मलाल है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement