अयोध्या पहुंचते ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कह दी ये बड़ी बात

यूपी सीएम ने इस दौरान भूमि पूजन स्थल के अलावा हनुमानघड़ी मंदिर का दौरा भी किया। बता दें कि अयोध्या में पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से राममंदिर का भूमिपूजन किया जाएगा।

Avatar Written by: August 3, 2020 3:07 pm

नई दिल्ली। राम नगरी अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन के साथ आधारशिला रखने की उलटी गिनती शुरु हो गई है। इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज अयोध्या पहुंचे हैं, यहां पर सीएम योगी ने तैयारियों का जायजा लिया और सुरक्षा व्यवस्था को परखा। सीएम योगी यहां मौजूद अधिकारियों को निर्देश देते, उनसे जानकारी लेते हुए नज़र आए।

CM Yogi Adityanath

यूपी सीएम ने इस दौरान भूमि पूजन स्थल के अलावा हनुमानघड़ी मंदिर का दौरा भी किया। बता दें कि अयोध्या में पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से राममंदिर का भूमिपूजन किया जाएगा।

CM Yogi Adityanath

इस बीच उन्होंने ट्वीट किया, ‘अवधपुरी प्रभु आवत जानी, भई सकल सोभा कै खानी’। सीएम योगी ने लिखा कि कई शताब्दियों की प्रतीक्षा अब पूर्ण हो रही है, व्रत फलित हो रहे हैं, संकल्प सिद्ध हो रहा है। सभी श्रद्धालुजन घर पर दीप जलाएं, श्रीरामचरितमानस का पाठ करें। प्रभु श्री राम का आशीष सभी जनों को प्राप्त होगा।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘अवधपुरी में श्री राम मंदिर की स्थापना हेतु दादागुरु ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज एवं पूज्य गुरुदेव ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज आजीवन समर्पित रहे। आज जबकि यह स्वप्न साकार हो रहा है तो हुतात्माद्वय को असीम संतोष की अनुभूति हो रही होगी।’

राममंदिर भूमिपूजन : बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी को मिला न्योता, जानिए निमंत्रण पर क्या कहा

इससे पहले बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी को अयोध्या में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की ओर से पांच अगस्त को अयोध्या में होने वाले भूमि पूजन समारोह का आमंत्रण मिलने पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि इस दौरान वह प्रधानमंत्री को रामनामी और मानस भी भेट करेंगे।

इकबाल असांरी को आज सुबह श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की ओर से अयोध्या में होंने वाले कार्यक्रम का आमंत्रण प्राप्त हुआ है। इसे लेकर वह बहुत खुश है। उन्होंने कहा कि यह अयोध्या है यहां के मठ मंदिरों में हमेशा से एकता की फुहार निकलती रही है। मैं हमेशा वहां जाता रहा हूं। इसलिए यह बहुत बड़ा कार्यक्रम होंने जा रहा इसे लेकर मैं बहुत खुश हूं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए उन्होंने रामचरितमानस और रामनामी खरीद कर लाए हैं। यह अयोध्या की अनमोल धरोहर है।

इकबाल अंसारी ने कहा, “यह धार्मिक नगरी है। यहां गंगा-जमुनी तहजीब कायम है। यहां कण-कण में देवता वास करते हैं। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय से सभी विवाद खत्म हो गए। देश के संविधान पर सभी मुस्लिमों को भरोसा है। मैं जरूर जाऊंगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रामचरित मानस भेंट करूंगा।”