Connect with us

देश

UP: एक ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था के लिए ‘ब्रांड यूपी’ पर सीएम योगी का फोकस, हर विभाग में तैनात होगा नोडल अफसर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर का बनाने के लिए ब्रांड यूपी पर फोकस किया है। इसे लेकर उन्होंने हाल ही में चयनित सलाहकार कंपनी डेलॉइट इंडिया के प्रतिनिधियों को अपेक्षित सहयोग करने के लिए हर विभाग में नोडल अधिकारी तैनात करने के निर्देश दिए हैं। सलाहकार कंपनी के प्रतिनिधियों के संपर्क करने पर नोडल अधिकारी उन्हें विभागीय अभिलेख और आंकड़े देने में भी मदद करेंगे।

Published

on

cm yogi 2

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर का बनाने के लिए ब्रांड यूपी पर फोकस किया है। इसे लेकर उन्होंने हाल ही में चयनित सलाहकार कंपनी डेलॉइट इंडिया के प्रतिनिधियों को अपेक्षित सहयोग करने के लिए हर विभाग में नोडल अधिकारी तैनात करने के निर्देश दिए हैं। सलाहकार कंपनी के प्रतिनिधियों के संपर्क करने पर नोडल अधिकारी उन्हें विभागीय अभिलेख और आंकड़े देने में भी मदद करेंगे। सीएम योगी ने इसे उच्च प्राथमिकता में शामिल करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी के निर्देश पर सलाहकार कंपनी को पहला ड्राफ्ट तकनीकी रिपोर्ट अनुबंध हस्ताक्षर होने के 90 दिन यानी दो नवंबर तक सौंपना है। इसे देखते हुए सीएम योगी ने विभागों के अपर मुख्य सचिवों को डेलाइट इंडिया के प्रतिनिधियों के संपर्क करने पर उन्हें विभाग के बारे में रणनीति और तकनीकी रिपोर्ट तैयार करने में आवश्यक सहयोग देने के निर्देश दिए हैं। सीएम के निर्देश के बाद नियोजन विभाग ने सलाहकार कंपनी को अभिलेख और आंकड़े देने के लिए सभी अपर मुख्य सचिवों को भी पत्र लिखा है।

Deloitte

ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ब्रांड यूपी की खूबियों और निवेश के फायदों के बारे में जानकारी दी जाएगी। इसमें ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के अलावा प्रदेश में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर और उपलब्ध संसाधनों आदि के बारे में भी बताया जाएगा। इस पूरे कार्य में डेलॉइट इंडिया के सुझावों और रणनीति को भी शामिल किया जाएगा। डेलॉइट इंडिया की ओर से पहली ड्राफ्ट तकनीकी रिपोर्ट पर विभागों के मत पर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित उच्चाधिकार प्राप्त समिति विचार करेगी। इसके बाद आवश्यक संशोधनों से सलाहकार कंपनी को सूचित किया जाएगा। इन संशोधनों का समावेश करते हुए डेलॉइट इंडिया अंतिम तकनीकी रिपोर्ट एक जनवरी 2023 तक दोबारा प्रस्तुत करेगी। इसके बाद सीएम योगी के समक्ष कंपनी की ओर से प्रस्तुतीकरण किया जाएगा और सीएम योगी ही इस पर अंतिम निर्णय लेंगे।

cm yogi

एक ट्रिलियन डॉलर के लक्ष्य के लिए 10 सेक्टरों के 50 से अधिक विभागों का परीक्षण किया जाएगा। इन सभी विभागों में चल रही योजनाओं और धरातल पर उसके प्रभाव का परीक्षण किया जाएगा। उसी के आधार पर विभागवार रणनीति तैयार की जाएगी और फिर उसे अमलीजामा पहनाया जाएगा।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement