Hathras case: सीएम योगी ने की पीड़िता के परिजनों से बात, सख्त कार्रवाई का दिया भरोसा

CM Yogi Adityanath speaks to victim’s father: उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हाथरस गैंगरेप (Hathras Gangrape) पीड़िता के परिवारवालों से बात की।

Avatar Written by: September 30, 2020 7:26 pm
CM Yogi Adityanath

नई दिल्ली। उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हाथरस गैंगरेप (Hathras Gangrape) पीड़िता के परिवारवालों से बात की। उन्‍होंने परिवार को सांत्‍वना देते हुए जल्‍द से जल्‍द पीड़ित परिवार को न्‍याय दिलाने की भरोसा दिया है। वहीं सीएम योगी ने पीड़िता के परिवार के लिए सहायता की घोषणा की है।

परिवार को 25 लाख रुपये की आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को कनिष्ठ सहायक के पद पर नौकरी देने को कहा है। सूडा के अंतगर्त हाथरस शहर में एक मकान भी परिवार को देने के लिए कहा है। इसके साथ ही SIT की 3 सदस्यीय कमेटी सभी बिंदुओं पर जांच करेगी। फास्ट ट्रेक कोर्ट में मुकदमे की सुनवाई को अनुमति दी है। बता दें कि इस मामले में सभी चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं।

बता दें कि हाथरस जिले में 14 सितंबर को सामूहिक बलात्कार और गला दबाये जाने की घटना की शिकार हुई 19 वर्षीय दलित लड़की ने मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया था।

एडीजी प्रशांत कुमार बोले- पीड़िता का पुलिस ने जबरन नहीं कराया अंतिम संस्कार

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में हुए गैंगरेप मामले में पीड़िता की मौत के बाद से सियायत गरमाई हुई है। एक ओर जहां विपक्ष लगातार यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath Govt) पर हमलावर है। दूसरी तरफ पीड़िता के अंतिम संस्कार को लेकर यूपी पुलिस सवालों के घिरे में फंसती नजर आ रही है। दरअसल पुलिस पर आरोप है कि बिना परिवार की अनुमति के बिना पुलिस ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया है। इसी बीच उत्तर प्रदेश पुलिस के एडीजी प्रशांत कुमार (ADG Prashant Kumar) ने मामले पर बयान देते हुए साफ किया कि पुलिस ने पीड़िता का जबरन अंतिम संस्कार नहीं कराया है।

ADG prashant Kumar

हाथरस गैंगरेप मामले पर बात करते हुए यूपी पुलिस के एडीजी ( लॉ एंड ऑर्डर ) प्रशांत कुमार ने कहा कि कल सुबह पीड़िता की मृत्यु हो गई थी और देर रात पोस्टमार्टम के बाद जब शव पहुंचा तो परिवार वालों की सहमति से और उनकी उपस्थिति में अंतिम संस्कार कराया गया था।