राजस्थान के सियासी घमासान से कांग्रेस को उबारने की जिम्मेदारी माकन, सुरजेवाला और अविनाश के हाथ…

राजस्थान में गहलोत सरकार संकट में घिरी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गए हैं। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी एक्शन में आ गईं हैं।

Written by: July 12, 2020 7:21 pm

नई दिल्ली। राजस्थान में गहलोत सरकार संकट में घिरी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गए हैं। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी एक्शन में आ गईं हैं। उन्होंने कांग्रेस के तीन नेताओं को जयपुर भेजने का फैसला लिया है।

sonia gandhi

सोनिया गांधी ने अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला और अविनाश पांडे को जयपुर जाने को कहा है। तीनों नेता कांग्रेस विधायकों से बात करेंगे। अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला और अविनाश पांडे रविवार रात जयपुर के लिए रवाना होंगे।

इस बीच कांग्रेस की तरफ से सचिन पायलट को भी निर्देश गए हैं। सचिन पायलट आज रात जयपुर पहुंच सकते हैं। पायलट कांग्रेस के भेजे जा रहे पर्यवेक्षकों के साथ मीटिंग करेंगे और कल विधायक दल की बैठक में हिस्सा ले सकते हैं।

इससे पहले कांग्रेस के प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया: कांग्रेस के सभी विधायक मेरे संपर्क में हैं, सरकार स्थिर है और अपना कार्यकाल पूरा करेगी। सचिन पायलट से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं; उनके लिए संदेश छोड़े गए हैं। उन्होंने बताया कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को राजस्थान के घटनाक्रम से अवगत कराया गया है। सभी को राजस्थान एसओजी के साथ सहयोग करना चाहिए, जांच में शामिल होने में कोई नुकसान नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा राजस्थान में कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है।