Manmohan Singh: राहुल के सामने ही कांग्रेस के बड़े नेता ने मनमोहन सिंह को बताया ‘फर्जी पीएम’ भड़के अकाली दल ने कहा…

मनमोहन सिंह के लिए ये बात कांग्रेस के ही नेता प्रताप सिंह बाजवा ने बिना नाम लिए कही है। वो भी राहुल गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के सामने। प्रताप सिंह बाजवा पंजाब विधानसभा में नेता विपक्ष हैं। प्रताप सिंह के इस बयान पर कांग्रेस के किसी भी नेता ने विरोध में प्रतिक्रिया नहीं दी है। इससे शिरोमणि अकाली दल नाराज है।

Avatar Written by: January 21, 2023 7:27 am
manmohan singh

चंडीगढ़। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को ‘फर्जी’ पीएम कहा गया है। मनमोहन सिंह के लिए ये बात कांग्रेस के ही नेता प्रताप सिंह बाजवा ने बिना नाम लिए कही है। वो भी राहुल गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के सामने। प्रताप सिंह बाजवा पंजाब विधानसभा में नेता विपक्ष हैं। प्रताप सिंह के इस बयान पर कांग्रेस के किसी भी नेता ने विरोध में प्रतिक्रिया नहीं दी है। इससे शिरोमणि अकाली दल नाराज है। अकाली दल का कहना है कि प्रताप सिंह बाजवा ने मनमोहन सिंह को फर्जी पीएम बताया। इससे सिख समुदाय के साथ ही पंजाब के लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। अकाली दल ने इस मामले में कांग्रेस नेतृत्व की तरफ से चुप्पी साधे रखने पर सवाल भी खड़े किए हैं। पहले आप सुनिए कि प्रताप सिंह बाजवा ने कहा क्या था।

शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने प्रताप सिंह बाजवा के मनमोहन सिंह को फर्जी पीएम कहे जाने के खिलाफ बयान जारी किया है। चंदूमाजरा ने कहा है कि मनमोहन सिंह को पीएम बनाए जाने से पंजाब में सिखों को गर्व महसूस हुआ था। प्रेम सिंह ने अपने बयान में कहा है कि मनमोहन सिंह ने बहुत गरिमा के साथ भारत को दुनिया में पहचान दिलाई। उन्हें कल्पना में भी फर्जी नहीं कहा जा सकता। अगर ऐसा कहा जा रहा है, तो इससे साफ है कि प्रताप सिंह बाजवा जैसे चाटुकार अपने आकाओं को खुश करने के लिए हद तक जा सकते हैं।

prem singh chandumajra
अकाली दल नेता प्रेम सिंह चंदूमाजरा।

प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने मांग की है कि प्रताप सिंह बाजवा तुरंत माफी मांगें। साथ ही मनमोहन सिंह को फर्जी पीएम बताने वाला बयान भी वापस लें। अकाली दल ने इस मामले में कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से भी प्रताप सिंह बाजवा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि बाजवा के मनमोहन पर दिए गए बयान पर कांग्रेस नेतृत्व और राहुल गांधी चुप हैं। इससे साफ लगता है कि वे भी मनमोहन सिंह की अवमानना कर रहे हैं। राहुल गांधी ने भी मनमोहन सिंह के फैसलों को सार्वजनिक रूप से गलत तक बताया था। इससे भी साफ होता है कि बाजवा के बयान को वे सही मान रहे हैं।

Latest