Connect with us

देश

Bharat Jodo Yatra: राहुल की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल नहीं होना चाहते कांग्रेस कार्यकर्ता, BJP का बड़ा दावा

Bharat Jodo Yatra: अमित मालवीय इस दावे पर सोशल मीडिया पर लोग जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। एक यूजर ने फिल्मी अंदाज में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर तंज कसते हुए लिखा, इस खबर को पढ़कर शोले मूवी का डॉयलाग याद आया.. कितने आदमी थे, हूजूर तीन।

Published

Bharat Jodo Yatra

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को लेकर अक्सर सुर्खियों में बन रहते हैं। राहुल गांधी की ये पदयात्रा रविवार शाम राजस्थान में एंट्री कर लेगी। एक तरफ जहां राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को कई बॉलीवुड सितारों का साथ मिला चुका है। हाल ही में एक्ट्रेस स्वरा भास्कर मध्य प्रदेश के उज्जैन में राहुल गांधी की पदयात्रा में शामिल हुई थी। इसके अलावा अमोल पालेकर, रिया सेन, पूजा भट्ट समेत कई सितारें उनकी यात्रा में शामिल हुए थे। वहीं दूसरी तरफ राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के प्रवेश करने से पहले कांग्रेस नेता इससे दूरी बनाते जा रहा है। ये दावा भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने किया है। उनके मुताबिक राहुल की यात्रा में लोगों की भीड़ को इकट्ठा करने के लिए पैसा दिया जा रहा है।

अमित मालवीय ने अपने ट्विटर हैंडल से एक अखबार का फोटो साझा किया है। अमित मालवीय ने ट्वीट कर लिखा, ”राजस्थान में कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होना नहीं चाहते। गहलोत और पायलट के बीच खींचा तान में राहुल की यात्रा के लिए पैसे देकर भीड़ बुलाना ही ठीक होगा। और दर्शक जुटाने के लिए बॉलीवुड से थके कुछ कलाकारों को भी बुला लें। नहीं तो यात्रा फ्लॉप समझो।”

वहीं अमित मालवीय इस दावे पर सोशल मीडिया पर लोग जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। एक यूजर ने फिल्मी अंदाज में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर तंज कसते हुए लिखा, इस खबर को पढ़कर शोले मूवी का डॉयलाग याद आया.. कितने आदमी थे, हूजूर तीन।

बता दें कि राहुल गांधी 7 सितंबर से कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत की थी। जो कि करीब 5 महीने बाद यानि अगले साल कश्मीर में जाकर खत्म होगी। लेकिन राहुल गांधी अपनी इस पदयात्रा को लेकर किसी ना किसी वजह से विवादों में घिर जाते है। कभी अपनी यात्रा में बच्चों को शामिल करने पर मुश्किल में फंस जाते है, तो कभी वीर सावरकर का अपमान करने के चलते सुर्खियों में आ जाते है। इसके अलावा उनकी इस पदयात्रा के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाने का वीडियो भी सामने आया था। हालांकि कांग्रेस पार्टी ने इस वीडियो को फेक बताया था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement