दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख के करीब, 25 हजार के करीब एक्टिव केस

दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस से 63 व्यक्तियों की मृत्यु हो गई। इस दौरान दिल्ली में 2244 नए कोरोना पॉजिटिव मामले भी सामने आए हैं। दिल्ली में कोरोना से अभी तक 3000 से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

Written by: July 5, 2020 7:58 pm

नई दिल्ली। दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस से 63 व्यक्तियों की मृत्यु हो गई। इस दौरान दिल्ली में 2244 नए कोरोना पॉजिटिव मामले भी सामने आए हैं। दिल्ली में कोरोना से अभी तक 3000 से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है। दिल्ली सरकार ने रविवार को कोरोना बुलेटिन जारी करते हुए कहा, “बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना से 63 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। दिल्ली में अभी तक कोरोना से कुल 3067 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। 2244 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद अब दिल्ली में 99,444 कोरोना पॉजिटिव मामले हो चुके हैं। इन्हीं चौबीस घंटों के दौरान 3083 कोरोना रोगी स्वस्थ भी हुए हैं।”

दिल्ली में अभी तक सामने आए कोरोना पॉजिटिव मामलों में से 71,339 व्यक्ति स्वस्थ हुए हैं। दिल्ली में 25,038 एक्टिव कोरोना रोगी हैं। एक्टिव कोरोना रोगियों में से 15,564 कोरोना पॉजिटिव लोगों का उपचार उनके घरों पर ही हो रहा है। इन सभी व्यक्तियों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या भी इस समय 456 हैं।

corona india

दिल्ली में प्रतिदिन सामने आने वाले कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या में कमी आई है। बावजूद इसके अभी भी दिल्ली में कोरोना से प्रतिदिन 60-65 व्यक्तियों की मृत्यु हो रही है। दिल्ली में कोरोना रोगियों के स्वस्थ होने की दर एक महीना पहले तक 38 फीसदी थी। अब 67 फीसदी कोरोना रोगी स्वस्थ हो चुके हैं। दिल्ली सरकार कोरोना वायरस के कारण होने वाली मौतों को कम करने का प्रयास करेगी। हालांकि सरकार का कहना है कि अब स्थिति इतनी गंभीर नजर नहीं आ रही जितना कि एक महीना पहले थी।

corona logo

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मजबूती लाने के लिए दिल्ली सरकार अपने कोविड अस्पतालों में आईसीयू बेड की संख्या में वृद्धि कर रही है। इसके तहत लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल, राजीव गांधी अस्पताल और जीटीबी अस्पताल में आईसीयू बेड की संख्या बढ़ाई जा चुकी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “लोक नायक अस्पताल, गुरु तेग बहादुर और राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों में आईसीयू के अतिरिक्त बेड उपलब्ध होंगे।”