PM केअर्स फंड को RTI के दायरे में लाने की याचिका पर सुनवाई से दिल्ली हाईकोर्ट का इनकार

वकील हुड्डा ने इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई। याचिका में जनता की ओर से पीएम केअर्स फंड में जमा कराई गई राशि पूछी गई है।

Avatar Written by: June 10, 2020 4:12 pm

नई दिल्ली। सूचना के अधिकार(RTI) के तहत पीएम केअर्स फंड को लाने के लिए दायर की गई याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने तुरंत सुनवाई करने से इनकार कर दिया है। हाईकोर्ट ने साफ कर दिया है कि इस मामले में पहले से ही एक याचिका कर्नाटक में लंबित है, लिहाजा हमें इस पर सुनवाई की जरूरत नहीं है।

PM cares Fund Modi

दिल्ली हाईकोर्ट में वकील सुरेंद्र सिंह हुड्डा की तरफ से दायर की गई इस याचिका में मांग की गई है कि पीएम केअर्स फंड को ये निर्देश दिए जाएं कि उसे कितना पैसा मिला, कितना खर्च हुआ और शेष राशि का इस्तेमाल किस तरह से किया जाएगा, इन सब का ब्यौरा वेबसाइट पर अपलोड करे। कोर्ट ने कहा कि याचिका को दोबारा दाखिल कीजि, फिर देखेंगे। हाई कोर्ट ने कहा कि वेबसाइट पर ब्यौरा डालने की बात याचिका में आपने नहीं लिखी है। याचिकाकर्ता ने फिलहाल याचिका को वापस ले लिया है।

delhi_high_court

वकील हुड्डा ने इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई। याचिका में जनता की ओर से पीएम केअर्स फंड में जमा कराई गई राशि पूछी गई है। याचिका में पूछा गया है कि जनता की ओर से इस फंड में कितनी राशि जमा कराई गई और अब तक उसमें से कितनी राशि खर्च की गई है। बड़ी संख्या में इस वायरस से संक्रमित मरीजों को आर्थिक मदद की जरूरत है, लेकिन मरीजों के पास यह मौलिक अधिकार भी नहीं है कि वो ये जान सकें कि पीएम केअर्स फंड में कोरोना के दौरान आम लोगों की तरफ से दिए गए कितने पैसे अब तक जमा किए गए हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost