Connect with us

देश

Maharashtra Political Crisis: उद्धव का इमोशनल कार्ड भी नहीं आया काम, रात भर में 6 और विधायक पहुंच गए असम

Maharashtra Political Crisis: मंगलवार से शुरू हुए बवाल के बाद बुधवार को दिनभर चली मीटिंग्स के बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने देर शाम चौंकाने वाला फैसला लिया। ठाकरे मुख्यमंत्री आवास छोड़कर अपने निजी आवास मातोश्री (अपने घर) पहुंच गए। इतना ही नहीं फेसबुक पर लाइव आकर उन्होंने सरकार के खिलाफ बागी हुए लोगों से सामने आकर उनसे बात करने की अपील भी की।

Published

Uddhav

नई दिल्ली। मुंबई से सटे ठाणे शहर में ऑटो चालक के रूप में काम करने वाले 58 वर्षीय एकनाथ शिंदे ने राजनीति में आते ही कम समय में शिवसेना के प्रमुख नेता के तौर पर अपनी पहचान बनाई। कभी शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने ये सोचा भी नहीं होगा कि यही एकनाथ शिंदे जो उनके लिए एक समय पर इतने खास हुआ करते थे वो एक दिन उनकी सरकार की कुर्सी के पैर गिराने का ऐसा काम करेंगे। खैर ये तो सभी जानते हैं कि बदलाव प्रकृति का नियम है और ये भी संभव है कि अभी आपका जो सहयोगी आपके लिए सबसे खास है वो एक दिन आपके लिए ही मुसीबत खड़ी कर सकता है।

महाराष्ट्र में उद्धव सरकार के लिए एकनाथ शिंदे ने जो बवाल खड़ा किया है वो लगातार बढ़ता दिख रहा है। हालांकि बीती रात सीएम ठाकरे ने बागियों को मनाने के लिए इमोशनल कार्ड खेला लेकिन बावजूद इसके आज सुबह तीन और विधायक गुवाहाटी पहुंच गए हैं। इससे पहले ही बुधवार को चार और विधायक गुवाहाटी में शिंदे के बागी हो चुके गुट की संख्या बढ़ाने वहां पहुंचे थे।

आपको बता दें, बीती रात करीब 8 बजे चार विधायक गुवाहाटी में मौजूद Radisson Blu होटल पहुंचे। इसी होटल में महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ बागी हो चुके एकनाथ शिंदे बाकी विधायकों के साथ रुके हुए हैं। वहीं, अब बताया जा रहा है कि शाम को चार विधायक महाराष्ट्र BJP अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के साथ सूरत से गुवाहाटी के लिए रवाना हुए थे। गुवाहाटी पहुंचे इन चार और बागियों में गुलाबराव पाटील और योगेश कदम भी शामिल हैं और बाकी दो विधायक (मंजुला गावित और चंद्रकांत पाटिल) निर्दलीय हैं।

उद्धव ठाकरे ने छोड़ा सीएम आवास

मंगलवार से शुरू हुए बवाल के बाद बुधवार को दिनभर चली मीटिंग्स के बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने देर शाम चौंकाने वाला फैसला लिया। ठाकरे मुख्यमंत्री आवास छोड़कर अपने निजी आवास मातोश्री (अपने घर) पहुंच गए। इतना ही नहीं फेसबुक पर लाइव आकर उन्होंने सरकार के खिलाफ बागी हुए लोगों से सामने आकर उनसे बात करने की अपील भी की।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement