केरल : पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता पी शंकरन का निधन

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के पूर्व मंत्री पी शंकरन का मंगलवार रात निधन हो गया। पार्टी सूत्रों ने बुधवार को यहां यह जानकारी दी। वे पिछले कुछ समय से अस्वस्थ थे और यहां एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली।

Written by: February 26, 2020 11:20 am

कोझिकोड (केरल)। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के पूर्व मंत्री पी शंकरन का मंगलवार रात निधन हो गया। पार्टी सूत्रों ने बुधवार को यहां यह जानकारी दी। वे पिछले कुछ समय से अस्वस्थ थे और यहां एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। शंकरन (72) को सबसे ज्यादा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के करुणाकरन का करीबी माना जाता था, जिन्होंने उन्हें 1998 में लोकसभा चुनावों में कोझिकोड सीट पर उम्मीदवार बनाया था। शंकरन ने सांसद वीरेंद्र कुमार को हराकर यह चुनाव जीता था।

Senior Congress leader P Sankaran

हालांकि 1999 में हुए लोकसभा चुनावों में शंकरन के स्थान पर करुणाकरण के बेटे के मुरलीधरन को चुनाव लड़ाया गया और इसके बदले उन्हें 2001 में प्रदेश की एके एंटनी सरकार में मंत्री बनाया गया। करुणाकरन ने जब 2005 में कांग्रेस छोड़ने का निर्णय लिया तो शंकरन ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया और करुणाकरन के पार्टी में वापसी करने पर शंकरन भी दोबारा कांग्रेस में शामिल हो गए।

P Sankaran

अपने विनम्र स्वभाव के लिए चर्चित शंकरन सबके प्रिय थे। मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने शंकरन के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वे आम आदमी से संपर्क बनाए रखने वाले नेता थे। शंकरन के परिवार में उनकी पत्नी और तीन बच्चे हैं।