आंदोलन के बीच केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा, सरकार किसान यूनियनों से बातचीत के लिए तैयार

Farmer Protest: इससे पहले कैबिनेट मंत्री तोमर(Narendra Singh Tomar) ने दिल्‍ली मार्च कर रहे किसानों से शुक्रवार को आंदोलन(Farmer Protest) खत्‍म करने की अपील की थी। तोमर ने आंदोलनरत किसानों को 3 दिसंबर को बातचीत का प्रस्‍ताव भी दिया था।

Avatar Written by: November 28, 2020 3:58 pm

नई दिल्ली। मोदी सरकार द्वारा पास किए गए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के प्रदर्शन (Farmers Protest) अब पंजाब से चलकर देश की राजधानी दिल्ली पहुंच चुका है। इन सबके बीच मोदी सरकार में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि एक बार फिर से सरकार किसानों से बातचीत  करने को तैयार है। उन्होंने कहा कि, “भारत सरकार किसानों की समस्याओं के लिए किसान यूनियन से बात करने के लिए पूरी तरह तैयार है। हमने उनको 3 दिसंबर का आमंत्रण भेजा है और मुझे आशा है कि वो सब लोग आएंगे और इस संवाद के माध्यम से रास्ता ढूढेंगे।” इसके अलावा किसानों के सहारे राजनीति करने वालों को लेकर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, “मैं राजनीतिक दल के लोगों को कहना चाहता हूं कि अगर उनको राजनीति करनी है तो अपने नाम पर राजनीति करें, लेकिन किसानों के नाम पर सियासत नहीं होनी चाहिए।”

farmer protest

वहीं कांग्रेस पर निशाना साधते हुए नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि, “किसानों के नाम पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। कांग्रेस यह सब सिर्फ दुष्प्रचार के माध्यम से कर रही है।” 3 दिसंबर से पहले बातचीत के सवाल पर उन्होंने कहा कि किसानों का प्रस्ताव आने दीजिए।

Narendra singh tomar

गौरतलब है कि इससे पहले कैबिनेट मंत्री तोमर ने दिल्‍ली मार्च कर रहे किसानों से शुक्रवार को आंदोलन खत्‍म करने की अपील की थी। तोमर ने आंदोलनरत किसानों को 3 दिसंबर को बातचीत का प्रस्‍ताव भी दिया था।

Farmer Protest Delhi

इसके अलावा दिल्ली सीमा पर किसानों के जमावड़े को देखते हुए बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन की परमिशन देने को लेकर दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ईश सिंघल ने कहा कि किसान नेताओं से बातचीत के बाद दिल्ली पुलिस ने किसानों को बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन की परमिशन दे दी गई है।