Uttar Pradesh: कोविड-19 के नए स्ट्रेन से कैसे बचे प्रदेश, सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए अधिकारियों को निर्देश

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने यूके, फ्रांस व अन्य देशों से प्रदेश आने वालों का पता लगाकर उनका आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने के निर्देश देते हुए कहा कि उन्हें क्वारंटीन किया जाए। प्रदेश में कोविड-19 से सम्बन्धित आरटीपीसीआर व रैपिड एन्टीजन टेस्ट पूरी क्षमता के साथ किए जाएं। 

Avatar Written by: December 27, 2020 4:42 pm
yogi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूके, फ्रांस व अन्य देशों से प्रदेश आने वालों का पता लगाकर उनका आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने के निर्देश देते हुए कहा कि उन्हें क्वारंटीन किया जाए। प्रदेश में कोविड-19 से सम्बन्धित आरटीपीसीआर व रैपिड एन्टीजन टेस्ट पूरी क्षमता के साथ किए जाएं। कोरोना के नए स्वरूप के दृष्टिगत टेस्टिंग के नए उपकरण मंगा लिए जाएं। मुख्यमंत्री एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विदेशों से आए लोगों की सूची बनाकर उनकी टेस्टिंग सुनिश्चित कराई जाए। टेस्टिंग का परिणाम आने तक ऐसे व्यक्तियों को नियमानुसार होम आइसोलेशन में रखा जाए।

Yogi Adityanath With Officers

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की रिकवरी दर को बढ़ाने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रिकवरी दर में वृद्धि के लिए कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस की व्यवस्था को प्रभावी बनाए रखा जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि कोविड चिकित्सालयों में औषधियों, मेडिकल उपकरण तथा ऑक्सीजन की बैकअप सहित पर्याप्त उपलब्धता प्रत्येक दशा में बनी रहे।

Yogi Adityanath

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को पूरी तरह सक्रिय रखा जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि सभी जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनिवार्य रूप से प्रतिदिन सुबह कोविड चिकित्सालय में तथा शाम को इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में बैठक आहूत कर कार्यों की गहन समीक्षा करते हुए आगे की रणनीति तय करें। उन्होंने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस सिस्टम को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश भी दिए।

Yogi Adityanath meeting

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में टेस्टिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसके दृष्टिगत टेस्टिंग कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि विशेषज्ञ चिकित्सक कोविड वॉर्ड में नियमित राउण्ड लें, इससे मरीजों को बेहतर उपचार सुलभ होगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost