अगर अभी भी नहीं संभले तो होगी परेशानी, दिल्ली में जून अंत तक 1 लाख हो सकते हैं कोरोना पॉजिटिव केस

राजधानी दिल्ली में भी कोरोना का कहर जारी है। मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ यहां कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है। अगर इसी तरह प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ते रहे तो जून के अंत तक दिल्ली में कोरोना के मरीजों की संख्या 1 लाख तक पहुंच सकती है।

Written by: June 7, 2020 12:17 pm

नई दिल्ली। पूरा देश इस समय कोरोना की मार झेल रहा है। राजधानी दिल्ली में भी कोरोना का कहर जारी है। साथ ही संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ यहां कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है। अगर इसी तरह प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ते रहे तो जून के अंत तक दिल्ली में कोरोना के मरीजों की संख्या 1 लाख तक पहुंच सकती है।

 

जून अंत तक 1 लाख हो सकते हैं कोरोना पॉजिटिव केस

दिल्ली सरकार द्वारा गठित पांच सदस्यीय कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में आशंका जताई है कि जून के अंत तक दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 1 लाख तक पहुंच सकती है। रिपोर्ट में कहा गया कि दिल्ली में 15 दिन में केस डबल हो रहे हैं। ऐसे में दिल्ली को कुछ दिन बाद 15 हजार बेड की जरूरत पड़ेगी।

इसके अलावा रिपोर्ट में बताया गया कि दिल्ली में जिस रफ्तार से कोरोना वायरस बढ़ रहा है, उसे देखते हुए 15 जुलाई तक 42 हजार बेड की जरूरत पड़ सकती है। इसके साथ ही सुझाव दिया है कि कोविड-19 संकट के मद्देनजर शहर के स्वास्थ्य ढांचे का इस्तेमाल केवल राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों के उपचार में होना चाहिए।

कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 219 पहुंची

दिल्ली में मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ यहां कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 219 पहुंच गई है। फिलहाल उत्तरी दिल्ली में सबसे ज्यादा 33 और उत्तर पूर्वी दिल्ली में सबसे कम 4 कंटेनमेंट जोन हैं।

पिछले 24 घंटे में 1,320 नए मरीज आए सामने

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 27 हज़ार के पार पहुंच गई है। प्रदेश में इतनी तेजी से कोरोना मामलों का बढ़ना सभी के लिए चिंता का विषय है। पिछले 24 घंटो में यहां कोरोना के 1,320 नए मरीज सामने आए हैं। हालांकि, पिछले 24 घंटों में 349 मरीज ठीक भी हुए हैं। दिल्ली के लिए राहत की खबर यह रही कि पिछले 24 घंटो में यहां एक भी मौत नहीं हुई है।

आपको बता दें कि दिल्ली सरकार पर कोरोना से मरने वाले लोगों की मौत को छिपाने का भी आरोप लगा है। यहां 25 मई से 05 जून के बीच 53 मौतों की लेट रिपोर्टिंग हुई, जिसके बाद अब कुल मौतों की संख्या का आंकड़ा 761 हो गया है।