Maharashtra Politics: पवार-उद्धव को आयकर विभाग का नोटिस, चुनाव के समय दिए गए हलफनामे पर सवाल

Maharashtra Politics: एक तरफ जहां संसद में सरकार और विपक्ष के बीच खींचतान जारी है। वहीं इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) चीफ और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार (Sharad Pawar) को आयकर विभाग का नोटिस पहुंचा है।

Avatar Written by: September 22, 2020 2:51 pm
Sharad Pawar & Uddhav

नई दिल्ली। एक तरफ जहां संसद में सरकार और विपक्ष के बीच खींचतान जारी है। वहीं इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) चीफ और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार (Sharad Pawar) को आयकर विभाग का नोटिस पहुंचा है। ये नोटिस उनको पिछले चुनाव में दिए गए हलफनामे को लेकर दिया गया है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार के अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray), मंत्री आदित्य ठाकरे, एनसीपी नेता सुप्रिया सुले को भी आयकर विभाग की ओर से नोटिस भेजा गया है। बताया जा रहा है कि आयकर विभाग की ओर से इस नोटिस के जरिए पिछले कुछ चुनावों में दाखिल किए गए हलफनामे की जानकारी मांगी गई है। नोटिस मिलने पर जब शरद पवार से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि वो लोग (नोटिस भेजने वाले) कुछ लोगों को ज्यादा चाहते हैं।

sharad pawar uddhav thackrey

जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ दल शिवसेना और उनकी सहयोगी​ पार्टी एनसीपी के इन नेताओं पर आरोप है कि इन लोगों ने चुनाव के समय चुनाव आयोग को जो हलफनामा दिया है उसमें कई जानकारी गलत भरी हैं साथ ही कई अधूरी जानकारी दी गई हैं।

दूसरी तरफ शरद पवार राज्यसभा के निलंबित सांसदों के समर्थन में एक दिन का उपवास करेंगे। मंगलवार को राज्यसभा के उपसभापति हरवंश ने राष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति को पत्र लिखकर सांसदों को बर्ताव को लेकर अपनी पीड़ा जाहिर की थी। उन्होंने कहा कि बुधवार को वह एक दिन का उपवास रखेंगे। इसी के जवाब में शरद पवार ने निलंबित सांसदों के समर्थन में एक दिन के उपवास का ऐलान किया है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost