भारतीय सेना में कोरोना का पहला मामला, लद्दाख में सैनिक का कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव आया

भारतीय सेना के एक जवान में कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद उसे लद्दाख के एक अस्पताल में आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है। भारतीय सेना में कोरोनावायरस का यह पहला पॉजिटिव मामला है।

Avatar Written by: March 18, 2020 11:35 am

नई दिल्ली। भारतीय सेना के एक जवान में कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद उसे लद्दाख के एक अस्पताल में आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है। भारतीय सेना में कोरोनावायरस का यह पहला पॉजिटिव मामला है। सेना के सूत्रों ने बताया है कि सैनिक लद्दाख स्काउट से है, जो कि एक पैदल सेना रेजिमेंट है और इसे ‘स्नो वॉरियर्स’ के तौर पर जाना जाता है। यह सैनिक अभी लद्दाख के एसएनएम हार्ट फाउंडेशन में भर्ती है। पता चला है कि सैनिक के पिता ने ईरान की यात्रा की थी। सैनिक के पिता, जो कि कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए थे, उनका लद्दाख के अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Indian Army

आर्मी के सूत्रों ने कहा, “सैनिक के पिता लद्दाख हार्ट फाउंडेशन में 29 फरवरी से संगरोध में थे और 6 मार्च को उनका कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव आने के बाद से ही उन्हें स्थानीय एसएनएम अस्पताल में आइसोलेशन में रखा गया है।”

Coronavirus

सैनिक में यह संक्रमण कैसे हुआ, इस बारे में सूत्र ने कहा कि वो 25 फरवरी से 1 मार्च तक आकस्मिक अवकाश पर था और 2 मार्च को वापस आया था। भले ही सैनिक वापस आ गया था लेकिन पिता के संगरोध अवधि के दौरान वह परिवार को सहयोग कर रहा था और कुछ समय तक अपने गांव चुचोट में भी रहा था।

पिता में परीक्षण पॉजिटिव आने के बाद सैनिक को भी 7 मार्च से संगरोध में रखा गया था और 16 मार्च को उसका भी परीक्षण पॉजिटिव आने के बाद उसे स्थानीय एसएनएम अस्पताल में रखा गया था। सैनिक की बहन, पत्नी और दो बच्चों को भी इसी अस्पताल में संगरोध में रखा गया है।

indian army

इसी बीच, पुणे के सैन्य अस्पताल में एक भारतीय सेना अधिकारी और एक महिला स्व-संगरोध में हैं। उनमें इस वायरस के लक्षण दिखाई दिए हैं। हालांकि सूत्र ने बताया है कि उन्हें अब तक परीक्षण कराने को नहीं कहा गया है, “जब भी जरूरत होगी, कोविड-19 टेस्ट कराया जा सकता है। “

Support Newsroompost
Support Newsroompost