Connect with us

देश

अब सेना पर बनने वाली वेब सीरीज और फिल्म का प्रसारण नहीं होगा आसान, रक्षा मंत्रालय का आदेश पहले लेनी होगी NOC

दरअसल रक्षा मंत्रालय को भारतीय सेना के जवानों और सैन्य वर्दी के अपमानजनक तरीके से फिल्म और वेब सीरीज  में चित्रित करने के बारे में कुछ शिकायतें मिलीं है।

Published

on

Indian Army

नई दिल्ली। अब भारतीय सेना पर बनने वाली वेब सीरीज और फिल्म का प्रसारण आसान नहीं होगा। फिल्मों और वेब सीरीज में भारतीय सेना के अधिकारियों को गलत तरीके से दिखाए जाने की शिकायतों को रक्षा मंत्रालय ने गंभीरता से लिया है। दरअसल रक्षा मंत्रालय को भारतीय सेना के जवानों और सैन्य वर्दी के अपमानजनक तरीके से फिल्म और वेब सीरीज  में चित्रित करने के बारे में कुछ शिकायतें मिलीं है।

Indian Army

इस शिकायत के बाद रक्षा मंत्रालय ने औपचारिक रूप से केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड और सूचना और प्रसारण मंत्रालय से कहा है कि भारतीय सेना पर बनाई गई फिल्म/डॉक्यूमेंट्री/ वेब सीरीज के प्रसारण से पहले प्रोडक्शन हाउस से कहे कि वो रक्षा मंत्रालय से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) प्राप्त करें। बिना NOC के भारतीय सेना पर बनाई गई फिल्मों और उसके सीन का प्रसारण नहीं होगा।

केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड और सूचना प्रसारण मंत्रालय को रक्षा मंत्रालय की ओर से यह भी कहा गया है कि यह सब उन घटनाओं को रोकने के लिए किया जा रहा है जो रक्षा बलों की छवि को बिगाड़ते हैं और रक्षा कर्मियों और दिग्गजों की भावनाओं को आहत करते हैं।

Indian army

रक्षा मंत्रालय को मिली शिकायत में कहा गया है कि एएलटी बालाजी पर प्रसारित वेब सीरीज कोड M और जी5 की एक्सएक्सएक्स अनसेंसर्ड (सीज़न -2) जैसी सीरीज में सेना को लेकर कुछ ऐसे दृश्य दिखाए गए हैं जो वास्तविकता से काफी दूर हैं। सिर्फ इतना ही नहीं सेना के जो सीन इन सीरीज में दिखाए गए वो सशस्त्र बलों की खराब छवि पेश करते हैं। कुछ संबंधित नागरिकों और पूर्व सैनिकों के संगठनों ने भी एएलटी बालाजी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है जो निर्माता और ओटीटी मंच के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement