ट्रेन की साइड लोअर बर्थ को लेकर रेलवे ने किया डिजाइन में ये बदलाव, सफर होगा अब और आरामदायक

Indian Railway: नए डिजाइन Split Option के साथ-साथ अलग से एक Slide Seat दी गई है, जो विंडो की तरफ होती है। इसमें यात्री अपनी मर्जी के अनुसार इस्तेमाल कर सकेगा।

Avatar Written by: December 14, 2020 4:43 pm
Side lower berth

नई दिल्ली। रेल यात्रियों के सफर को और ज्यादा आरामदायक बनाने के लिए भारतीय रेलवे ने साइड लोर बर्थ के डिजाइन में बदलाव किया है। इस बदलाव के बाद अब रेल यात्रियों की कमर में दर्द की शिकायत नहीं होगी। बता दें कि सफर को ज्यादा आरामदायक बनाने के लिए रेलवे ने नए डिजाइन में Split Option के साथ अब अलग से एक Slide Seat भी दी है। इसको लेकर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक वीडियो भी शेयर किया है। जिसमें नई लोअर साइड बर्थ की खूबियों बारे में एक अधिकारी बताता हुआ दिख रहा है। दरअसल, ट्रेनों में लोअर साइड बर्थ पर बैठने के लिए Split Option होता है। जब किसी यात्री को सोना होता है तो वो सीट को जोड़ देता है, लेकिन बीच में गैप (Gap) होने की वजह से यात्री को सोने में काफी तकलीफ होती है। डिजाइन में किए गए नए बदलाव के बाद अब यात्रियों के कमर में दर्द की शिकायतें नहीं आएंगी।

Side lower berth AC

बता दें कि नए डिजाइन Split Option के साथ-साथ अलग से एक Slide Seat दी गई है, जो विंडो की तरफ होती है। इसमें यात्री अपनी मर्जी के अनुसार इस्तेमाल कर सकेगा। अगर यात्री को सोना होगा तो वो उसे खींचकर ऊपर कर लेगा, जिससे दोनों सीटों के बीच का गैप ढंक जाएगा।

आपको बता दें कि रेलवे नॉन-एसी स्लीपर और जनरल क्लास कोच को अपग्रेड करने की योजना को लेकर कुछ महीने पहले ये खबर आई थी। इसी सिलसिले में अनारक्षित जनरल क्लास कोच और 3-टियर नॉन एसी स्लीपर क्लास कोच को भारतीय रेलवे एसी कोच में री-डिजाइन कर रहा है। रेलवे के इस कदम से यात्रियों को सस्ते में एसी ट्रेनों में सफर करने का मौका मिलेगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost