ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हाथ में थामा ‘कमल’, कांग्रेस को बड़ा झटका

सिंधिया ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद कहा, “मैं भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद अर्पित करना चाहूंगा कि उन्होंने इस परिवार में मुझे आमंत्रित किया।”

Written by: March 11, 2020 2:54 pm

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के कद्दावर नेता और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया बुधवार को यहां भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) में शामिल हो गए। पार्टी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने सिंधिया को भाजपा की सदस्यता दिलाई। इससे पहले वह अपराह्न् 12.30 बजे पार्टी में शामिल होने वाले थे, लेकिन बाद में समय आगे बढ़ा दिया गया। सिंधिया ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद कहा, “मैं भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद अर्पित करना चाहूंगा कि उन्होंने इस परिवार में मुझे आमंत्रित किया।”

सिंधिया ने इसके साथ ही कहा कि भारत का भविष्य मोदी जी के हाथों में सुरक्षित है। उन्होंने कहा, “मध्यप्रदेश सरकार में सपने टूटकर बिखर गए। मंदसौर के हजारों किसानों पर केस आज भी लदे हैं। राज्य में वास्तव में ट्रांसफर उद्योग चल रहा है। कांग्रेस आज वह नहीं रही, जो पहले थी।” सिंधिया हालांकि संवाद में पत्रकारों के एक भी सवाल लिए बिना ही चले गए।

Jyotiraditya Scindia joins BJP Party in presence of BJP President J.P Nadda

इस दौरान पार्टी प्रमुख जेपी नड्डा ने कहा कि राजमाता सिंधिया जी ने भारतीय जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी की स्थापना और विस्तार करने में बड़ी भूमिका निभाई थी।आज उनके पौत्र हमारी पार्टी में आए हैं। नड्डा ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया परिवार के सदस्य हैं, ऐसे में हम उनका स्वागत करते हैं।

Jyotiraditya Scindia joins BJP Party in presence of BJP President J.P Nadda

सिंधिया ने मंगलवार को भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी। इसके बाद इन दोनों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की थी। इन बैठकों के बाद सिंधिया ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया था। इस्तीफे में तारीख सोमवार 9 मार्च की थी।

Jyotiraditya Scindia joins BJP Party in presence of BJP President J.P Nadda

गौरतलब है कि होली के मौके पर सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। उनके जाने के साथ ही 22 विधायकों ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया।