Connect with us

देश

Video: ED की कार्रवाई को लेकर संसद में मल्लिकार्जुन पर दहाड़े केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, लगा दी क्लास

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि, मैं पार्लियामेंट का सदस्य हूं और विपक्ष का नेता हूं, लेकिन मुझे जब इस वक्त पार्लियामेंट चल रहा है। ईडी का समन आता है। मुझे 12.30 बजे जाना है कानून के तहत नजरअंदाज नहीं करना चाहता हूं। मैं कानून का पालन करना चाहता हूं। लेकिन पार्लियामेंट के दौरान ईडी का समन उचित है क्या? पार्लियामेंट चलते वक्त ही कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के घर का घेराव करते हैं।

Published

on

नई दिल्ली। नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी (Enforcement Directorate) की कार्रवाई लगातार जारी है।  इसी कड़ी में आज ईडी की टीम ने कांग्रेस के दिग्गज नेता मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) की मौजूदगी में नेशनल हेराल्ड (National Herald) के दफ्तर में स्थित यंग इंडिया के ऑफिस में तलाशी ली है। वहीं ईडी की कार्रवाई को लेकर कांग्रेस नेताओं का आक्रोश सड़क से लेकर संसद में देखने को मिल रहा है। संसद में इस मसले पर जमकर हंगामा हुआ। इतना ही नहीं ईडी की कार्रवाई को लेकर मल्लिकार्जुन खड़गे और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के बीच जमकर बहस हुई है। जिसका वीडियो भी सामने आया है।

mallikarjun kharge

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि, मैं पार्लियामेंट का सदस्य हूं और विपक्ष का नेता हूं, लेकिन मुझे जब इस वक्त पार्लियामेंट चल रहा है। ईडी का समन आता है। मुझे 12.30 बजे जाना है कानून के तहत नजरअंदाज नहीं करना चाहता हूं। मैं कानून का पालन करना चाहता हूं। लेकिन पार्लियामेंट के दौरान ईडी का समन उचित है क्या? पार्लियामेंट चलते वक्त ही कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के घर का घेराव करते हैं। अगर इस तरह से चलेंगे तो क्या लोकतंत्र में हमारा जीवित रहेगा? क्या हम संविधान के तहत चलेंगे? ये जानबूझकर हमको खत्म और डराने के लिए कर रहे हैं। हम नहीं डरेंगे। जिसके राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ। वहीं ईडी की कार्रवाई को लेकर कांग्रेस नेता खड़गे सवाल उठाए। जिसके बाद केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने उन्हें करारा जवाब दिया। इसके साथ ही दोनों नेताओं के बीच जमकर नोकझोंक भी हुई।

मल्लिकार्जुन खड़गे पर पलटवार करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि, मैं भरोसा दिलाना चाहता हूं कि इसमें सरकार कभी भी जो ला एनफोर्सेमैंट अथॉरिटी है उसके सामने दखल नहीं देती है, शायद इनके जमाने में जब इनकी सरकार चलती थी तो ये लोग दखल देते होंगे।  ये आरोप बेबुनियाद हैं। अगर किसी ने कोई गलत काम किया है तो कानून व्यवस्था अपना काम करता है और इस विषय में हम उच्च सदन में जो सुप्रीम कोर्ट हैं भारत का वहां से संदेश गया है। कांग्रेस की अध्यक्षा हैं, जो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं वो आज जमानत पर हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement