लद्दाख : LAC पर तनाव कम करने को लेकर भारत और चीन की सेनाओं के बीच बैठक

फिलहाल अब इस तनाव को बातचीत से सुलझाने की कोशिश हो रही है, लेकिन अभी तक हल नहीं निकला है। लद्दाख के पास मई की शुरुआत से ही चीन और भारत के बीच हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं।

Written by: June 2, 2020 7:57 pm

नई दिल्ली। लद्दाख के पास LAC (लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल) पर भारत और चीन के बीच जारी तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों की सेनाओं के डिविजनल कमांडर स्तर की बैठक हुई। इस बैठक में मेजर जनरल रैंक के अधिकारी शामिल रहे। गौरतलब है कि दोनों देशों के बीच जारी इस तनाव को देखते हुए यह तीसरी बैठक है।

Indian China LAC

इससे पहले ब्रिगेडियर और कर्नल रैंक के अधिकारियों की कई मौके पर बातचीत हो चुकी है। LAC पर तनाव कम करने के लिए सेना के साथ-साथ राजनयिक स्तर पर बातचीत चल रही है। आपको बता दें कि पिछले एक महीने से भारत और चीन के बीच लद्दाख के पास बॉर्डर पर तनाव जारी है। दोनों देशों की सेनाओं के बीच संघर्ष की भी खबरें सामने आती रही हैं।

फिलहाल अब इस तनाव को बातचीत से सुलझाने की कोशिश हो रही है, लेकिन अभी तक हल नहीं निकला है। लद्दाख के पास मई की शुरुआत से ही चीन और भारत के बीच हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। पहले यहां भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प-हाथापाई हुई। उसके बीच चीन ने सड़क निर्माण शुरू किया और फिर करीब 5 हजार सैनिक इकट्ठा कर लिए। इसके अलावा एयरबेस पर भी अपनी मौजूदगी बढ़ाई।

भारत ने भी इसके जवाब में अपनी तरफ से सैनिकों की संख्या को बढ़ा दिया गया, साथ ही भारत ने कुछ लड़ाकू विमान भी तैनात किए हैं। भारत की ओर से जारी सड़क निर्माण को भी नहीं रोका गया है और काम लगातार जारी है। बीते दिनों खबर थी कि चीनी सेना के लड़ाकू विमान भारतीय बॉर्डर के पास लगातार उड़ान भर रहे हैं और चीन विमानों की संख्या बढ़ा रहा है। हालांकि, चीन की हर चाल पर भारतीय सेना और एजेंसियां पैनी नजर रखे हुए हैं।

Ladakh LAC

भारत और चीन के बीच रिश्तों की तल्खी पर अमेरिका भी नजर बनाए हुए है। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भी माना है कि बॉर्डर पर हालात तनावपूर्ण हैं। पोम्पियो का कहना है कि चीनी सेना भारत के बॉर्डर की ओर बढ़ गई है।