दिल्ली सरकार के गलत विज्ञापन की वजह से एक अधिकारी सस्पेंड, एलजी ने ट्वीट कर दी जानकारी

दिल्ली सरकार द्वारा दिए गए विज्ञापन की वजह से आज नागरिक सुरक्षा निदेशालय (मुख्यालय) के एक वरिष्ठ अधिकारी को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

Written by: May 23, 2020 8:20 pm

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार द्वारा दिए गए विज्ञापन की वजह से आज नागरिक सुरक्षा निदेशालय (मुख्यालय) के एक वरिष्ठ अधिकारी को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। आपको बता दें कि कोरोना संकट के बीच दिल्ली सरकार के एक विज्ञापन ने देश में एक अलग बवाल खड़ा कर दिया है। दिल्ली सरकार की तरफ से सिविल डिफेंस के सदस्यों की भर्ती के लिए विज्ञापन निकाले गए हैं। इस विज्ञापन में सिक्किम को नेपाल और भूटान के साथ भारत से अलग बताया गया है।

Arvind Kejriwal and Anil Baijal

इसी मामले पर यह पूरी कार्रवाई की गई है। इसकी कार्रवाई की जानकारी देते हुए दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने ट्वीट कर लिखा कि नागरिक सुरक्षा निदेशालय (मुख्यालय) के एक वरिष्ठ अधिकारी को एक विज्ञापन प्रकाशित करने के लिए तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है, जिसने कुछ पड़ोसी देशों के समान सिक्किम पर गलत संदर्भ देकर भारत की क्षेत्रीय अखंडता का अपमान किया है।


अनिल बैजल ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा कि ऐसे भ्रामक दुष्प्रचार को किसी भी हाल में सहन नहीं किया जाएगा! इसके साथ ही एलजी ने बताया कि आपत्तिजनक विज्ञापन को वापस लेने के लिए तुरंत निर्देश भी दिया गया है।

इस पर जवाब देते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा कि सिक्किम भारत का अभिन्न अंग है। ऐसी त्रुटियों को कभी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। विज्ञापन वापस ले लिया गया है और संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

ये है पूरा मामला, जिसकी वजह से गरमाई राजनीति 

विज्ञापन में सिक्किम को नेपाल और भूटान के साथ भारत से अलग बताया गया है।

kejriwal ad

इसको लेकर सोशल मीडिया से लेकर तमाम जगह लोग केजरीवाल सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि आखिर जब सिक्किम भारत का ही हिस्सा है तो उसे अलग से बताने की क्या जरूरत है। अखबारों में प्रकाशित इस विज्ञापन में आवेदन के लिए पात्रता के कॉलम में लिखा गया है कि भारत का नागरिक हो या नेपाल, भूटान या सिक्किम की प्रजा हो। नेपाल और भूटान के साथ सिक्किम को भी भारत से अलग दिखाया गया।

delhi Government Ad

इतना ही नहीं इस विज्ञापन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फोटो भी छपी है। कोरोना वायरस से दिल्ली में हुई मौतों के मुद्दे पर विपक्ष के निशाने पर रही अरविंद केजरीवाल की सरकार ने विपक्ष को हमलावर होने का एक और मौका दे दिया है।

विज्ञापन को लेकर भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल से सवाल करते हुए ट्विटर पर लिखा है कि, “ऐसे समय जब चीन सिक्किम पर अपना दावा कर रहा हैं, केजरीवाल सरकार का ये विज्ञापन देश के साथ धोखा हैं, गद्दारी हैं सरकारी विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश क्यों बताया।”

इसके अलावा एक यूजर ने केजरीवाल को टैग करते हुए लिखा है कि, “ऐसे समय जब चीन सिक्किम पर अपना दावा कर रहा हैं, केजरीवाल सरकार का ये विज्ञापन देश के साथ धोखा हैं, गद्दारी हैं सरकारी विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश क्यों बताया केजरीवाल ? कुछ तो शर्म कर लो केजरीवाल।

एक अन्य यूजर ने लिखा कि, “सिक्किम को भारत का हिस्सा नहीं मानते केजरीवाल। दिल्ली सरकार ने अपने विज्ञापन में सिक्किम को अलग देश बताया। सिक्किम के लोग भारत के ही नागरिक हैं मुख्यमंत्री जी, और सिक्किम भारत का अभिन्न अंग है। आपकी देश को तोड़ने की यह साज़िश कभी कामयाब नहीं होगी केजरीवाल जी।”

इस विज्ञापन को लेकर देखिए कैसे लोगों ने केजरीवाल सरकार को घेरा…

गौरतलब है कि साल 1975 में भारत का अंग बना सिक्किम, उत्तराखंड, झारखंड और छत्तीसगढ़ के गठन से पहले देश का सबसे नया राज्य हुआ करता था। बता दें कि दिल्ली सरकार ने सिविल डिफेंस वॉलंटियर्स की भर्ती के लिए विज्ञापन निकाला है।