चार कंधे को तरसा शव, मजबूरन रिक्शा ठेले में लदवा कर परिजन ले गए कब्रिस्तान

लोगों की माने तो मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के कमेला रोड का है। जहां बुजुर्ग की मौत होने के बाद उसके शव को ले जाने के लिए जब लोग आगे नहीं आए तो परिजनों ने ठेले में शव को रखवाया जिसके बाद उसे दफनाने के लिए कब्रिस्तान की तरफ रवाना हुए।

Avatar Written by: May 26, 2020 8:36 am

मेरठ। कोरोना का खौफ इस कदर देखने को मिल रहा है की इंसानियत भी शर्मसार हो जाए। सोशल डिस्टेंसिंग, कोरोना का डर और लॉक डाउन इन सबके बीच एक शव चार कंधों को तरसता रह गया। गाइडलाइन के मुताबिक अंतिम यात्रा में पांच लोग तो जा सकते हैं लेकिन यहां तो चार कंधे भी नसीब ना हुए।

death

नतीजा ये हुआ कि परिवार वालों ने एक रिक्शा ठेला किया बॉडी को उस पर रखा और खुद मोटरसाइकिल पर निकल पड़े कब्रिस्तान की तरफ और लोग घर की छत पर से खड़े होकर वीडियो बनाते रहे। वीडियो करोना के खौफ में संवेदनाएं किस कदर से दम तोड़ रही हैं यह बयान करने में काफी है।

death
मेरठ में सोशल मीडिया पर ये वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। लोगों की माने तो मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के कमेला रोड का है। जहां बुजुर्ग की मौत होने के बाद उसके शव को ले जाने के लिए जब लोग आगे नहीं आए तो परिजनों ने ठेले में शव को रखवाया जिसके बाद उसे दफनाने के लिए कब्रिस्तान की तरफ रवाना हुए। लोगों ने इस तरह की अजीब शव यात्रा को लेकर अफसोस तो जाहिर किया ।लेकिन भीषण गर्मी और कोरोनावायरस के संक्रमण के खतरे ने उनके पैरों को आगे बढ़ने से रोक लिया।

Support Newsroompost
Support Newsroompost