Connect with us

देश

Jammu Kashmir: ‘…जाम कर देंगे जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे’, महबूबा मुफ्ती ने सरकार को दी धमकी

Jammu-Kashmir: वीडियो में वो कह रही है कि पूरे कश्मीर को जेल खाना बना रखा है। मुझे वहां ये यहां नहीं आने दिया। आप कहते है कश्मीर में सब ठीक है। इन लोगों के बाल-बच्चे हमारे साथ काम करते है। इन्होंने लोन लिए है। इन्होंंने दिल्ली की मंडियों से पैसे लिए हुए है। कौन पैसा देगा, आप दोगे।

Published

on

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) अक्सर अपने विवादित बयान और ट्वीट के चलते विवादों में घिर रहती है। महबूबा मुफ्ती केंद्र सरकार को निशाने पकर लेते हुए जहरीले बोल बोलती रहती है। लेकिन इस बार पीडीपी प्रमुख ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए नेशनल हाइवे ब्लॉक करने की चेतावनी दी है। पीडीपी चीफ ने शोपियां में विरोध कर रहे लोगों को संबोधित करते हुए जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे को जाम करने की खुली चुनौती दी है। जिसका वीडियो उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि लोगों को संबोधित करते हुए मुफ्ती गुस्से से दिखाई दे रही है।

वीडियो में वो कह रही है कि पूरे कश्मीर को जेल खाना बना रखा है। मुझे वहां ये यहां नहीं आने दिया। आप कहते है कश्मीर में सब ठीक है। इन लोगों के बाल-बच्चे हमारे साथ काम करते है। इन्होंने लोन लिए है। इन्होंंने दिल्ली की मंडियों से पैसे लिए हुए है। कौन पैसा देगा। आप दोगे। इसलिए आज मैं यहां से चुनौती देते हूं, अगर आपने रास्ता नहीं खोला। तो मैं सभी लोगों के साथ मिलकर जो नेशनल हाईवे को ब्लॉक हम करेंगे। अपने अमरनाथ यात्रा शुरू की, आपने यहां के लोगों को घर से निकाले नहीं दिया। आज हमारा फ्रूट का सीजन है, तीन महीने का। हमारा फल मंडियों में संड रहा है। हम ये नहीं होने देंगे। आगे वो कहती है कि मैं आपको समझाना चाहती हूं गुजारिश भी कर रही हूं और चुनौती भी दे रही हूं कि कश्मीरी लोगों का इम्तिहान मत लो। ये बहुत शरीफ लोग है।

गौरतलब है कि बीते मंगलवार को भी श्रीनगर में फल उत्पादकों ने प्रदर्शन के दौरान अपनी फलों की पेटियां आग के हवाले कर दिया था। इस विरोध प्रदर्शन में पीडीपी के नेताओं और कार्यकर्ताओ ने हिस्सा लिया था। आज खुद महबूबा मुफ्ती फल उत्पादकों से मिलने शोपियां पहुंचीं । इसके साथ ही बड़ी संख्या में फल उत्पादकों ने महबूबा मुफ्ती से मुलाकात की ओर उन्हें अपनी परेशानियों के बारे में बताया था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement