Connect with us

देश

Delhi MCD Election 2022: मनोज तिवारी का AAP पर बड़ा आरोप, कहा -450 लोगों के नाम…

Delhi MCD Election 2022: भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि, 450 लोगों का नाम वोटर लिस्ट से काट दिया गया है। यह दिल्ली सरकार की बड़ी साजिश है, मुझे लगता है कि यहां का चुनाव कैंसिल करना पड़ेगा। सुभाष मोहल्ला का ये चुनाव वार्ड है। इसके खिलाफ शिकायत करेंगे और इस चुनाव को रद्द करने और दोबारा चुनाव कराने की अपील करेंगे।

Published

on

Manoj Tiwari and Kejriwal

नई दिल्ली। दिल्ली नगर निगम 2022 (Delhi MCD Election 2022) के लिए आज सुबह 8 बजे मतदान जारी है। कड़ी निगरानी और सुरक्षा के बीच राजधानी में एमसीडी चुनाव के लिए वोटिंग हो रही है। दोपहर 12 बजे तक 18 फीसदी वोटिंग वोटिंग हो चुकी है। हालांकि कई एमसीडी चुनाव को लेकर उत्साह देखने को मिल रहा है, कई जगहों पर लोग भारी संख्या में वोट डालने जा रहे है, जबकि कई पोलिंग बूथ में लोगों की भीड़ कम देखने को मिल रही है। इसी बीच मतदान वाले दिन भी सियासी रार थमने का नाम नहीं ले रही है। एमसीडी चुनाव के बीच भी आम आदमी पार्टी (AAP) और  भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच जुबानी जंग देखने को मिल रही है। भाजपा के सांसद मनोज तिवारी ने केजरीवाल की पार्टी पर बड़ा आरोप लगाया है।

Manoj Tiwari

मनोज तिवारी का कहना है कि 400 से अधिक दिल्ली वाले लोगों का नाम वोटर लिस्ट में नहीं है। इसके पीछे उन्होंने आम आदमी पार्टी की साजिश बताई है। मनोज तिवारी ने कहा कि इस साजिश में आप पार्टी कामयाब नहीं होगी।

भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि, 450 लोगों का नाम वोटर लिस्ट से काट दिया गया है। यह दिल्ली सरकार की बड़ी साजिश है, मुझे लगता है कि यहां का चुनाव कैंसिल करना पड़ेगा। सुभाष मोहल्ला का ये चुनाव वार्ड है। इसके खिलाफ शिकायत करेंगे और इस चुनाव को रद्द करने और दोबारा चुनाव कराने की अपील करेंगे।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस पार्टी के साथ बड़ा खेला हो गया था। दिल्ली कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी अपना वोट नहीं डाल पाए थे। वोटर लिस्ट नाम नहीं होनी की वजह से वो वोट नहीं कर पाए और उन्होंने पोलिंग बूथ से बिना अपने मताधिकार का प्रयोग किए ही बाहर आना पड़ा था।

भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने पंजाबी बाग एक्सटेंशन में पिंक पोलिंग बूथ में अपना वोट डाला। सिरसा ने कहा, “जैसे पूरा देश तरक्की कर रहा है वैसे ही दिल्ली भी तरक्की करे, इसके लिए लोगों को मतदान करने की ज़रूरत है। दिल्ली के लोगों को झूठ और फरेब से निजात चाहिए।”

गौरतलब है कि साल 2017 में हुए दिल्ली एमसीडी चुनाव में भाजपा ने जीत की हैट्रिक लगाई थी। भाजपा 250 में 181 सीटें में कामयाब रही थी, जबकि केजरीवाल की आप पार्टी महज 48 सीट जीत सकी और दूसरे स्थान पर रही है। वहीं कांग्रेस पार्टी के खाते में 30 सीट आ पाई थी। इस बार का एमसीडी चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबले के तौर पर देखा जा रहा है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement