अपने पैतृक घर को देखकर भावुक हुए NSA अजीत डोभाल, कहा- गांव में बनाएंगे पुस्तैनी घर

NSA Ajit Dobhal: बता दें कि डोभाल(Ajit Doval) जब भी अपने गांव जाते हैं तो लोगों से मुलाकात कर उनका हालचाल जानते हैं, और उनकी समस्याओं का निदान भी करते हैं। यहीं नहीं जरूरतमदों को आर्थिक मदद भी करते रहे हैं डोभाल।

Avatar Written by: October 25, 2020 10:49 am
Ajit Doval House

नई दिल्ली। इस सरकार में पीएम मोदी के सबसे भरोसेमंद और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल जब अपने गांव कुलदेवी की पूजा करने पैतृक गांव घीड़ी पहुंचे तो अपने पैतृक घर के अवशेष देखकर वो भावुक हो गए। अजीत डोभाल ने घर की हालत को देखकर निश्चय किया कि वह गांव में घर में बनाएंगे। बता दें कि शनिवार को अजीत डोभाल अपनी पत्नी के साथ निजी दौरे पर अपने गांव पहुंचे थे। जहां उन्होंने कुलदेवी की पूजा भी की। इसके बाद एनएसए डोभाल अपनी पत्नी के साथ पुस्तैनी घर देखने पहुंचे थे। घर के अवशेष देखकर उन्होंने गांव में पैतृक घर बनाने की बात कही। घर बनाने को लेकर डोभाल ने कहा कि, जल्द ही मकान का नक्शा तैयार कर लिया जाएगा। साथ ही मंदिर के पास एक गेस्ट हाउस भी बनाया जाएगा। गौरतलब है कि शनिवार को उत्तराखंड के पौड़ी जिले में स्थित अपने पैतृक गांव घीड़ी पहुंचे थे डोभाल। यहां उन्होंने नवरात्र के मौके पर अपनी कुलदेवी मां बालकुमारी देवी की पूजा की।

Ajit Doval Visit House

उन्होंने वहां लोगों का हालचाल जाना और लोगों से बातें की। इसके अलावा डोभाल को अपने बीच देखकर वहां मौजूद लोग काफी खुश दिखाई दे रहे थे। उनका ये निजी दौरा था। अपने गांव में डोभाल करीब ढाई घंटे तक गांव में रुके और ग्रामीणों से बातचीत की। एनएसए बनने के बाद अजीत डोभाल का अपने पैतृक गांव में यह तीसरा दौरा रहा।

Ajit Doval And his wife Visit House

बता दें कि डोभाल जब भी अपने गांव जाते हैं तो लोगों से मुलाकात कर उनका हालचाल जानते हैं, और उनकी समस्याओं का निदान भी करते हैं। यहीं नहीं जरूरतमदों को आर्थिक मदद भी करते रहे हैं डोभाल। उनकी इसी छवि के कायल हैं उनके गांव वाले। बता दें कि इस बार ग्रामीणों ने उनके सामने लिंक रोड को गांव के बीच तक पहुंचाने, स्वास्थ्य सुविधा को सुदृढ़ किए जाने, शिक्षा व्यवस्था को मजबूत किए जाने की मांग की।

Support Newsroompost
Support Newsroompost