महाराष्ट्र: पालघर में साधुओं की मॉब लिंचिंग, 110 लोग गिरफ्तार, 9 आरोपी भेजे गए जुवेनाइल होम

महाराष्ट्र के पालघर में दो साधु समेत तीन लोगों की हुई मॉब लिंचिंग के मामले में एफआईआर दर्ज कर 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Written by: April 20, 2020 11:10 am

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के पालघर में दो साधु समेत तीन लोगों की हुई मॉब लिंचिंग के मामले में एफआईआर दर्ज कर 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से 101 लोगों को 30 अप्रैल तक पुलिस कस्टडी में भेजा गया है, जबकि 9 नाबालिगों को जुवेनाइल सेंटर होम में भेज दिया गया। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने ट्वीट करके ये जानकारी दी।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘पालघर की घटना पर कार्रवाई की गई है। जिन्होंने 2 साधु, एक ड्राइवर और पुलिस कर्मियों पर हमला किया था, पुलिस ने घटना के दिन ही उन सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस अपराध और शर्मनाक कृत्य के अपराधियों को कठोर दंड दिया जाएगा।’


बता दें कि पालघर जिले में करीब 200 लोगों की भीड़ ने चोर होने के शक में तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। बाद में इनमें से 2 लोगों के साधु होने की पुष्टि हुई, जबकि तीसरा शख्स ड्राइवर बताया गया। यह घटना उस समय हुई, जब गुरुवार रात ये लोग मुंबई के कांदीवली से कार में सवार होकर गुजरात के सूरत जा रहे थे। घटना को लेकर विपक्ष, उद्धव सरकार पर लगातार हमलवार है।


राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने रविवार को जांच का आदेश दिए जाने की जानकारी देते हुए इस घटना को कोई सांप्रदायिक रंग नहीं देने की भी चेतावनी दी। देशमुख ने ट्वीट किया, ‘सूरत जा रहे तीन लोगों की पालघर में हुई हत्या में संलिप्त 101 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। हत्या के मामले में मैंने उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया है।’


इससे पहले साधुओं की निर्मम हत्या को लेकर साधु-संतों सहित नेताओं ने रोष जताया है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी ने रविवार को इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की और चेतावनी दी कि अगर हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी नहीं की गई तो महाराष्ट्र सरकार के विरुद्ध आंदोलन किया जाएगा।

पालघर मॉब लिंचिंग मामले में घिरे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बचाव में आए आदित्य ठाकरे

पालघर मॉब लिंचिंग मामले में घिरे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बचाव में आदित्य ठाकरे सामने आए हैं। आदित्य ठाकरे ने कहा कि मामले में कड़ी कार्रवाई की गई है। महाराष्ट्र सरकार इस तरह के अपराधों को कभी माफ नहीं करती। उन्होंने बताया कि पालघर मामले में सभी की गिरफ्तारी हो चुकी है।


आदित्य ठाकरे ने महाराष्ट्र सीएम के बयान को री-ट्वीट करते हुए लिखा, ‘सीएम ने पालघर अपराध में अपना बयान दे दिया है। मैं खासकर सभी राजनीतिक दलों को यह ध्यान दिलाना चाहता हूं कि साधुओं पर हमला करने वालों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र सरकार इस तरह के अपराधों को माफ नहीं करेगी।’