Connect with us

देश

Rajasthan: करौली मामले पर PFI प्रमुख मो. आसिफ का आपत्तिजनक बयान, कहा- मुस्लिम इलाके में नारे लगाएंगे तो कौन बर्दाश्त करेगा

Rajasthan: वहीं लेटर सामने आने के बाद न्यूजरूम पोस्ट ने मोहम्मद आसिफ से खास बातचीत की। इस बातचीत में उन्होंने करौली हिंसा के लिए भाजपा और आरएसएस को जिम्मेदार ठहराया। इसके साथ ही इस घटना को राजस्थान की गहलोत सरकार की विफलता का नतीजा बताया। मोहम्मद आसिफ ने बातचीत में ये भी कहा है कि आप मुस्लिम इलाके में नारे लगाएंगे तो कौन बर्दाश्त करेगा।

Published

on

PFI logo

नई दिल्ली। शनिवार को राजस्थान के करौली में एक जुलूस के दौरान बवाल देखने को मिला था। हिंदू नववर्ष का जश्न मनाने के दौरान निकाले गए एक धार्मिक जुलूस में कुछेक असामाजिक तत्वों के द्वारा पथराव किया गया था, जिसके बाद सांप्रदायिक हिंसा भड़क उठी थी। वहीं,  एहतियातन कर्फ्यू लगा दिया गया। इसके अलावा इंटरनेट सेवा भी बाधित कर दी गई। पुलिस ने मामले में अब 40 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि 7 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। एक तरफ जहां राजस्थान के करौली में हुई को लेकर गहलोत सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है। भाजपा अब इस मुद्दे को लेकर राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर हमलावर हो गई है। वहीं दूसरी ओर इस मामले एक और बड़ा खुलासा हुआ है। अब करौली घटना के तार आतंकी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से जुड़ता दिखाई दे रहा हैं। दरअसल सोशल मीडिया पर एक लेटर वायरल हो रहा है। जिसमें  हिंदू नववर्ष की आड़ में प्रदेश में हिंसा फैलाने की साजिश रचने की बात कही है। हैरान करने वाली बात ये सामने आई है कि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद आसिफ ने बयान जारी करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री और डीजीपी को हिंसा की आशंका भी जताई थी।

PFI

वहीं लेटर सामने आने के बाद न्यूजरूम पोस्ट ने मोहम्मद आसिफ से खास बातचीत की। इस बातचीत में उन्होंने करौली हिंसा के लिए भाजपा और आरएसएस को जिम्मेदार ठहराया। इसके साथ ही इस घटना को राजस्थान की गहलोत सरकार की विफलता का नतीजा बताया। मोहम्मद आसिफ ने बातचीत में ये भी कहा है कि आप मुस्लिम इलाके में नारे लगाएंगे तो कौन बर्दाश्त करेगा।

यहां देखिए पूरा वीडियो-

Advertisement
Advertisement
Advertisement