Connect with us

देश

Maharashtra: PFI की साजिश बेनकाब, दशहरा के मौके पर बीजेपी-RSS के बड़े नेता थे हिट लिस्ट में

Maharashtra: चौंकाने वाली बात ये सामने आई है कि दशहरे के मौके पर आरएसएस के होने वाले कार्यक्रम की जानकारी पीएफआई के सदस्यों ने इकट्ठा की थी और अपने सदस्यों जो कि केरल और अन्य जगहों पर एक्टिव है उनसे आरएसएस का पथ संचलन कार्यक्रम की जानकारी साझा की थी।  

Published

on

rss 1

नई दिल्ली। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी PFI की साजिश को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। महाराष्ट्र एटीएस सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर सामने आई है। खबरों के अनुसार, भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कई बड़े नेता पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया  के निशाने पर थे। इसके अलावा बताया जा रहा है कि नागपुर में आरएसएस का मुख्यालय भी निशाने पर था। बता दें कि बीते दिनों केंद्रीय जांच एजेंसियों NIA और ईडी ने कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन पीएफआई के ठिकानों पर छापा मारा था। देश के अलग-अलग राज्यों से पीएफआई के सदस्यों की गिरफ्तारी हुई है उसके बाद से ही कई बड़े खुलासे हो रहे है।

महाराष्ट्र एटीएस के सूत्रों से जानकारी मिली है कि जो PFI के कार्यकर्ता और एक्टिव सदस्य थे। उन्होंने कई जगहों की जानकारी इकट्ठा की थी। जिसमें भाजपा के बड़े नेता और आरएसएस का मुख्यालय और कार्यक्रम पीएफआई के रडार पर था। चौंकाने वाली बात ये सामने आई है कि दशहरे के मौके पर आरएसएस के होने वाले कार्यक्रम की जानकारी पीएफआई के सदस्यों ने इकट्ठा की थी और अपने सदस्यों जो कि केरल और अन्य जगहों पर एक्टिव है उनसे आरएसएस का पथ संचलन कार्यक्रम की जानकारी साझा की थी।

rss

इसके अलावा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आरएसएस से जुड़े भाजपा के लोग या फिर आरएसएस से भाजपा में आए नेता वो पीएफआई के निशाने पर थे। बता दें कि महाराष्ट्र से भी पीएफआई के 5 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और गिरफ्तार किए गए इन पीएफआई के सदस्यों ने ये चौंकाने वाला खुलासा किया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement