जानिए क्यों भाजपा ने राहुल गांधी को चिदंबरम से ट्यूशन लेने की दी सलाह

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज कांग्रेस के आरोपों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम से ट्यूशन लेना चाहिए।

Avatar Written by: April 29, 2020 2:06 pm

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के एक बयान पर तंज कसते हुए उन्हें पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम से ट्यूशन लेने की नसीहत दे डाली। असल में देश के बैंकों ने 50 बड़े विलफुल डिफाल्टर्स का 68,607 करोड़ रुपए का कर्ज बट्टे खाते में डाल दिया है। इसको लेकर कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर है।

prakash javadekar

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज कांग्रेस के आरोपों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम से ट्यूशन लेना चाहिए। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘मैं राहुल गांधी की इस आरोप को सिरे से खारिज करता हूं कि मोदी सरकार ने 65,000 करोड़ रुपये माफ कर दिए हैं। एक भी पैसा माफ नहीं किया गया है। कर्ज को बट्टे खाते में डालने का मतलब माफ करना नहीं होता है। राहुल को चिदंबरम से कर्ज माफी और कर्ज को बट्टे खाते में डालने में अंतर समझने के लिए ट्यूशन लेना चाहिए।’

prakash javdekar aap

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘कर्ज को बट्टे खाते में डालना जमाकर्ताओं को बैंक की सही तस्वीरें दिखाने की प्रक्रिया है। यह बैंकों को कार्रवाई करने और वसूली करने से नहीं रोकता है। हमने देखा है कि कैसे नीरव मोदी की संपत्ति जब्त और नीलाम की गई। माल्या के पास कोई विकल्प नहीं बचा है। हाईकोर्ट ने उनकी अपील को खारिज कर दिया है।’

इससे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर हमला बोला और कहा कि इस बात पर उन्हें आत्मचिंतन करने की जरूरत है कि वह अपने कार्यकाल में सिस्टम की सफाई का काम क्यों नहीं कर पाए।