UP : योगी सरकार के ऑपरेशन नेस्तनाबूद का खौफ, बाहुबली अंसारी की मदद में जुटी पंजाब सरकार

Gangster Mukhtar Ansari Slips Into Depression: एक तरफ जहां उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath Govt) बाहुबलियों व माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। वहीं दूसरी ओर पंजाब सरकार (Punjab Govt) आरोपियों को संरक्षण देने में लगी हुई है

Avatar Written by: October 20, 2020 11:15 am

नई दिल्ली। एक तरफ जहां उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath Govt) बाहुबलियों व माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। वहीं दूसरी ओर पंजाब सरकार (Punjab Govt) आरोपियों को संरक्षण देने में लगी हुई है। इतना ही नहीं योगी सरकार के आपरेशन नेस्तनाबूद का खौफ से घबराई पंजाब सरकार अब बाहुबली मुख्तार अंसारी की मदद करने में जुट गई है। दरअसल जब मुख्तार अंसारी को पंजाब से लाने गई उत्तर प्रदेश पुलिस को बैरंग वापस लौटना पड़ा। यूपी पुलिस कोर्ट का ऑर्डर लेकर जब उसे लेने गई तो रोपड़ जेल में बंद डॉन मुख्तार अंसारी ने अपनी मेडिकल रिपोर्ट सौंप दी। पंजाब जेल के मेडिकल बोर्ड ने मुख्तार अंसारी को कई गंभीर बीमारियों से ग्रसित बताया और उसे 3 महीने का बेड रेस्ट की सलाह दी है।

Mukhtar Ansari YOgi

जानकारी के मुताबिक पंजाब की रोपड़ जेल में बंद मुख्तार अंसारी को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के परिवार का संरक्षण मिला हुआ है। सूत्रों के अनुसार, पंजाब के मुख्यमंत्री के परिवार का एक सदस्य और मुख्तार अंसारी का बेटा अब्बास अंसारी का बहुत अच्छा दोस्त है। प्रोफेशनल शूटर अब्बास अंसारी पंजाब में राइफल एसोसिएशन का सदस्य भी है। माना जा रहा है कि इसी का फायदा मुख्तार अंसारी को फायदा मिल रहा है। इसी लिए रातों रात मुख्तार अंसारी के लिए डायबटीज और डिप्रेशन के सर्टिफिकेट का इंतजाम हो गया।

Mukhtiar Ansari Letter

बता दें कि इससे पहले भी तीन बार यूपी पुलिस पंजाब गई थी उसे लेने लेकिन बार-बार वो बहाने बनाता रहा। इस बार यूपी पुलिस कोर्ट का ऑर्डर लेकर पहुंची तो मुख्तार अंसारी ने मेडिकल सर्टिफिकेट दे दिया। उत्तर प्रदेश में मुख्तार की अवैध संपत्तियों पर सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। अवैध संपत्तियां गिराई जा रहीं हैं। मुख्तार की पत्नी और दोनों बेटे अलग अलग मामले में फरार हैं।