रेलमंत्री ने स्पष्ट कर दी स्थिति, कहा- नहीं होगा रेलवे का निजीकरण

देशभर में ट्रेनों के निजीकरण को लेकर छिड़ी बहस के बीच रेल मंत्रालय का एक बयान सामने आया है। जिसमें साफ तौर पर कहा गया है कि रेलवे का किसी भी प्रकार से निजीकरण नहीं किया जा रहा है। वर्तमान में चल रही रेलवे की सभी सेवायें वैसे ही चलेंगी जैसे चल रही थीं।

Avatar Written by: July 9, 2020 2:42 pm

नई दिल्ली। देशभर में ट्रेनों के निजीकरण को लेकर छिड़ी बहस के बीच रेल मंत्रालय का एक बयान सामने आया है। जिसमें साफ तौर पर कहा गया है कि रेलवे का किसी भी प्रकार से निजीकरण नहीं किया जा रहा है। वर्तमान में चल रही रेलवे की सभी सेवायें वैसे ही चलेंगी जैसे चल रही थीं।

बता दें कि रेल मंत्रालय ने 109 रुट्स पर यात्री ट्रेनें चलाने के लिए प्राइवेट पार्टीज को इनविटेशन दिया था। जिसमें प्राइवेट पार्टीज को 30 हजार करोड़ का निवेश करना था। इसके बाद से ही ट्रेनों के निजीकरण को लेकर चर्चा होने लगी थीं।

इस मामले में रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, ”रेलवे का किसी भी प्रकार से निजीकरण नहीं किया जा रहा है। वर्तमान में चल रही रेलवे की सभी सेवायें वैसे ही चलेंगी. निजी भागीदारी से 109 रूट पर 151 अतिरिक्त आधुनिक ट्रेनें चलाई जायेंगी। जिनका कोई प्रभाव रेलवे की ट्रेनों पर नही पड़ेगा, बल्कि ट्रेनों के आने से रोजगार का सृजन होगा।”

Support Newsroompost
Support Newsroompost