करीम लाला और इंदिरा गांधी वाले बयान पर फंसे संजय राउत, मारी पलटी

संजय राउत ने कहा कि मैं इंदिरा, नेहरू और गांधी परिवार का हमेशा सम्मान करते हुए आया हूं। जब मैं विपक्ष में था तो उस वक्त भी मैं इंदिरा जी का सम्मान करता था। जब-जब इंदिरा गांधी पर हमला हुआ तो मैंने उनका बचाव किया था।

Written by: January 16, 2020 3:08 pm

नई दिल्ली। एक इंटरव्यू में शिवसेना सांसद संजय राउत ने बयान दिया था कि पूर्व पीएम इंदिरा गांधी अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला से मिलने मुंबई जाया करती थीं। अब चूंकि महाराष्ट्र में शिवसेना, NCP और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार है तो ऐसे में संजय राउत के बयान पर सवाल खड़े होने लगे।

Sanjay Raut

भाजपा ने कहा-

मौका देख भाजपा ने भी कांग्रेस से सफाई मांग ली। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कांग्रेस नेताओं से पूछा है कि इंदिरा जी जैसे शीर्ष नेताओं पर आरोप लगाने के बाद कांग्रेस चुप क्यों रहती है? सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को संजय के इन आरोपों और करीम लाला पर जवाब देना चाहिए।

कांग्रेसी नेता कहा- बयान वापस लें

इसके अलावा संजय के बयान पर कांग्रेसी नेता मिलिंद देवड़ा ने भी आपत्ति जताते हुए कहा कि, इंदिरा गांधी एक देशभक्त थीं। संजय राउत अपना बयान वापस लें।’

Indira Gandhi Karim lala

संजय राउत ने दी सफाई

बढ़ते दबाव को देखते हुए संजय राउत खुद गुरुवार को सफाई लेकर पेश हो गए। उन्होंने अपने बयान पर सफाई देते हुए अब कहा है कि, ‘करीम लाला अफगानिस्तान से आए पठानों के नेता थे और उनसे बहुत से लोग मिलने जाते थे। यह मुलाकात एक पठान नेता के रूप में होती थी जिसमें वह लोगों की समस्या को जानते थे।’

राउत ने कहा कि मैं इंदिरा, नेहरू और गांधी परिवार का हमेशा सम्मान करते हुए आया हूं। जब मैं विपक्ष में था तो उस वक्त भी मैं इंदिरा जी का सम्मान करता था। जब-जब इंदिरा गांधी पर हमला हुआ तो मैंने उनका बचाव किया था। संजय राउत ने अपने बयान को वापस लेते हुए कहा कि, ‘हमारे कांग्रेस के मित्रों को आहत होने की जरूरत नहीं है। अगर किसी को लगता है कि मेरे बयान से इंदिरा गांधी जी की छवि को धक्का पहुंचा है या किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची है, तो मैं अपने बयान को वापस लेता हूं।’

Kareem LALA

क्या संजय का बयान

दरअसल बुधवार को संजय राउत ने दावा किया था कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई में पुराने डॉन करीम लाला से मिलने आती थीं। संजय राउत ने मुंबई में अंडरवर्ल्ड के दिनों को याद करते हुए कहा कि दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील और शरद शेट्टी जैसे गैंगस्टर महानगर और आस-पास के क्षेत्रों पर नियंत्रण रखते थे। वैसे ये किसी ने सोचा भी नहीं था कि ट्विटर पर शेरो-शायरी के सहारे सियासी पारी में तड़का लगाने वाले संजय राउत को अपना बयान वापस लेना पड़ेगा लेकिन सत्ता की लालसा जो ना करा दे।