पहले सामना में लेख के जरिए शिवसेना ने कांग्रेस को सुनाई खरी-खरी, अब संजय राउत ने दी नसीहत

राज्‍य सरकार में कैबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण का कहना है कि राज्‍य सरकार उनकी अवहेलना कर रही है और उन्‍हें उनका जायज हक नहीं मिल पा रहा है। चव्हाण का कहना है कि सरकार में बहुत सी चीजें ठीक नहीं चल रही है, जिसके बारे में हम मुख्‍यमंत्री जी से बात करना चाहते हैं।

Written by: June 16, 2020 6:48 pm

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में गठबंधन की सरकार में अब रार तेज होती जा रही है। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में बनी महाविकास अघाड़ी सरकार में नाराजगी सामने आने लगी है। बता दें कि शिवसेना के मुखपत्र सामना के एक संपादकीय से अपनी गठबंधन दल कांग्रेस पर हमला बोला गया है। मामला धीमी आंच पर जल ही रहा था कि शिवसेना सांसद संजय राउत के बयान ने आग में घी डालने का काम कर दिया है।

Congress Shivsena NCP

संजय राउत की नसीहत

आपको बता दें कि संजय राउत ने कांग्रेस के नेताओं नसीहत देते हुए कहा है कि, अगर उन्हें कोई दिक्कत है तो वो सीधे तौर पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी से बात करें। ये बात प्रशासन और सरकार के संघर्ष की नहीं है। वैसे ही इस समय महाराष्ट्र पर कोरोना और चक्रवात का बहुत बड़ा संकट है। आपको बता दें कि खबर ये है कि राज्‍य सरकार में शामिल कांग्रेस नेता उद्धव सरकार से नाराज चल रहे हैं। जिसकी वजह से शिवसेना ने सामना में लेख के जरिए कांग्रेस पर निशाना साधा है।

Sanjay Raut

संजय राउत ने कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे का सभी कैबिनेट मंत्रियों के साथ तालमेल बहुत अच्छा है। कोई परेशान नहीं है। कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट और अशोक चव्हाण ने ही ऐसा कहा है। राज्य में फैले मौजूदा संकट से बाहर आते हैं, मुख्‍यमंत्री सबकी बात सुनेंगे।

Ashok Chavan

कैबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण का कहना है कि..

बता दें कि राज्‍य सरकार में कैबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण का कहना है कि राज्‍य सरकार उनकी अवहेलना कर रही है और उन्‍हें उनका जायज हक नहीं मिल पा रहा है। चव्हाण का कहना है कि सरकार में बहुत सी चीजें ठीक नहीं चल रही है, जिसके बारे में हम मुख्‍यमंत्री जी से बात करना चाहते हैं। कांग्रेस नेता सरकार से असंतुष्‍ट हैं, साथ ही फंड को लेकर भी नाराजगी चल रही है।

सामना के संपादकीय में कहा था…

दरअसल शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट और अशोक चव्हाण पर तंज कसते हुए कहा है कि पुरानी खटिया क्‍यों चरमरा रही है। शिवसेना का कहना है कि उद्धव ठाकरे सरकार के छह माह के कार्यकाल के पूरे होने पर कहा कि कुछ लोगों को लग रहा था कि गठबंधन की यह सरकार एक माह भी नहीं चल पाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ और आगे भी ऐसी कोई संभावना दूर तक नजर नहीं आ रही है। शिवसेना ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस भी अच्छा कार्य कर रही है, लेकिन समय-समय पर पुरानी खटिया भी आवाज करती है।