Connect with us

देश

Gorakhpur News: नए भारत के नए यूपी में सुनिश्चित होगा खिलाड़ियों का योगदान: सीएम योगी

Gorakhpur News: मुख्यमंत्री ने कहा कि डबल इंजन की भाजपा सरकार बिना भेदभाव समाज के हर तबके को शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचा रही है। पीएम मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर से जनसेवा के विभिन्न आयामों को लेते हुए सेवा पखवाड़ा शुरू किया गया है। इसी क्रम में 25 सितंबर को अंत्योदय के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई गई और यह सेवा पखवाड़ा महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर तक चलेगा।

Published

on

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे खिलाड़ी राष्ट्रीय और वैश्विक मंचों पर प्रदेश के शक्ति एवं सामर्थ्य का प्रदर्शन करते हैं। इसे देखते हुए प्रदेश सरकार हर गांव में खेल मैदान, विकास खंड स्तर पर स्टेडियम, बड़ी संख्या में स्पोर्ट्स कॉलेज बनवाने तथा बड़े पैमाने पर खेल सुविधाओं को उपलब्ध कराने की प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ा रही है। हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन के अनुरूप नए भारत के नए उत्तर प्रदेश के निर्माण में हमारे खिलाड़ियों का योगदान भी सुनिश्चित हो। सीएम योगी शारदीय नवरात्र की प्रतिपदा पर सोमवार को जंगल कौड़िया के रसूलपुर चकिया में 10.16 करोड़ रुपये की लागत से बने महंत अवेद्यनाथ महाराज स्टेडियम और महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में 5.80 करोड़ रुपये से निर्मित प्रेक्षागृह का लोकार्पण करने के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे। नवनिर्मित स्टेडियम परिसर में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के महाविद्यालय और स्टेडियम विकास के कईआयामों समेत राष्ट्रीय शिक्षा नीति से जुड़ने और खेलों को आगे बढ़ाने की प्रेरणा देते हैं। नवरात्र के पहले दिन सभी नागरिकों के जीवन में मंगल की प्रार्थना करते हुए उन्होंने कहा कि शैलपुत्री के आराधना के पावन अवसर पर इस स्टेडियम का लोकार्पण शक्ति व सामर्थ्य के प्रति श्रद्धा निवेदित करने का प्रतीक है।

बिना भेदभाव हर तबके को लाभान्वित कर रही डबल इंजन की सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि डबल इंजन की भाजपा सरकार बिना भेदभाव समाज के हर तबके को शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचा रही है। पीएम मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर से जनसेवा के विभिन्न आयामों को लेते हुए सेवा पखवाड़ा शुरू किया गया है। इसी क्रम में 25 सितंबर को अंत्योदय के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई गई और यह सेवा पखवाड़ा महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर तक चलेगा। उन्होंने कहा कि आज यहां के समारोह में 700 दिव्यांगजन को उनके लिए जरूरी उपकरण दिए गए हैं, यह समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति और वंचितों के उत्थान की सोच रखने वाले पंडित दीनदयाल उपाध्याय के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है।

सुदृढ़ कानून व्यवस्था से देश-दुनिया के निवेशक यूपी में निवेश को इच्छुक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सुदृढ़ हुई कानून व्यवस्था से आज देश-दुनिया के हर निवेशक उत्तर प्रदेश में निवेश को इच्छुक हैं। पूरे प्रदेश में विकास की नई कहानी दिखती है। जबकि सात-आठ साल पहले यहां उद्योगों के बंद होने की स्थिति थी। पीएम मोदी के विजन व उनके नेतृत्व में आज स्थिति बदल चुकी है। गोरखपुर में खाद कारखाना उज्ज्वल भविष्य की ओर ध्यान आकर्षित कर रहा है। एम्स पूर्वी उत्तर प्रदेश के चिकिसा सेवा का नया केंद्र बना है। जंगल कौड़िया-सहजनवा बाईपास और गोरखपुर-सोनौली सिक्सलेन के प्रोजेक्ट विकास के नए मॉडल हैं। उन्होंने कहा कि 1993-94 में जब वह पहली बार जंगल कौड़िया क्षेत्र में आए थे तो सड़के नहीं थीं। बरसात में लोगों का बुरा हाल होता था। आज गांव-गांव पक्की सड़कों, टूलेन की श्रृंखला दिखती है।

महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय की सालभर की प्रगति की सराहना

पिछली नवरात्र में मुख्यमंत्री ने महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय का लोकार्पण किया था। महाविद्यालय की सालभर की प्रगति की उन्होंने मुक्तकंठ से सराहना की। उन्होंने कहा कि एक साल में यहां विद्यार्थियों की संख्या 1400 हो गई है। यह इस बात का प्रमाण है कि किसी शिक्षण संस्थान के खोलने का क्या लाभ होता है। यहां मोहरीपुर से लेकर मिरचाइन टोला, कैम्पियरगंज और यहां तक की महराजगंज जिले की बालिकाएं पढ़ने आ रही हैं। सीएम योगी ने आश्वस्त किया कि वह इस महाविद्यालय की सभी आवश्यकताओं को पूर्ण करेंगे।

जंगल कौड़िया को बताया अपने गुरु का प्रिय क्षेत्र

सीएम योगी ने जंगल कौड़िया को अपने गुरुदेव ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ का प्रिय क्षेत्र बताते हुए कहा कि चार बार गोरखपुर के सांसद और पांच बार तत्कालीन मानीराम विधानसभा क्षेत्र के विधायक रहे ब्रह्मलीन महंतजी ने इस क्षेत्र के लोगों की सेवा की और उन्हें अपना आशीर्वाद प्रदान किया।

स्मार्ट युवा आज की आवश्यकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत दुनिया के मंच पर नई पहचान के साथ तेजी से आगे बढ़ रहा है। इसमें युवाओं की बड़ी भागीदारी सुनिश्चित हो रही है। इस भागीदारी को मजबूत करने के लिए स्मार्ट युवा आज की आवश्यकता है। युवाओं को स्मार्ट बनाने के लिए सरकार उन्हें डिजिटल प्लेटफार्म पर ले जा रही है। इसी सिलसिले में प्रदेश में दो करोड़ युवाओं को टैबलेट, स्मार्ट फोन उपलब्ध कराने के कार्य को युद्धस्तर पर आगे बढ़ाया जा रहा है। मेडिकल, इंजीनियरिंग, यूपीएससी, एनडीए जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए युवाओं को कहीं बाहर न जाना पड़े, इसके लिए फिजिकली और वर्चुअली अभ्युदय कोचिंग की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय के प्राचार्य से अपील की कि वह कॉलेज टाइम के बाद यहां भी विद्यार्थियों को अभ्युदय कोचिंग की सुविधा दें। ताकि यहां के छात्रों का कोर्स पूरा होने के साथ उनका बेहतरीन समायोजन भी हो सके।

समय के साथ चलना होगा युवाओं को

सीएम योगी ने कहा कि वर्तमान बदलते दौर में युवाओं को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के साथ खुद को जोड़ते हुए समय के अनुरूप आगे बढ़ना होगा। युवाओं के समयानुरूप मार्गदर्शन की जिम्मेदारी कॉलेजों को भी उठानी होगी। उन्होंने कहा कि नागपंचमी पर जंगल कौड़िया में कुश्ती प्रतियोगिताएं होती हैं। अब आने वाले समय में महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय इस तरह की प्रतियोगिताओं को कराए। पहलवान यहां के मैट का उपयोग करें। इससे आमजन का भी कॉलेज और स्टेडियम से जुड़ाव बढ़ेगा। मुख्यमंत्री ने रसूलपुर चकिया में महाविद्यालय एवं स्टेडियम बनाने के लिए दस एकड़ जमीन देने के लिए प्रधान एवं ग्रामीणों के प्रति आभार व्यक्त किया। सीएम योगी ने कहा कि यहां खेलों के लिए अच्छे कोच की व्यवस्था कराई जाएगी। साथ ही उन्होंने यह इच्छा भी जताई कि विधायक खेलकूद प्रतियोगिता का फाइनल इसी स्टेडियम में आयोजित हो।

सबको दिलाया गांवों को स्वच्छ और सुंदर रखने का संकल्प

लोकार्पण समारोह के मंच से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी लोगों को अपने-अपने गांवों को स्वच्छ और सुंदर रखने का संकल्प दिलाया। उन्होंने कहा कि स्वच्छता से ही पूर्वी उत्तर प्रदेश में इंसेफेलाइटिस (दिमागी बुखार) पर नियंत्रण पाया गया है। पहले इससे बड़ी संख्या में मौतें होती थीं लेकिन अब स्वच्छता से इसे शून्य पर ला दिया गया है। उन्होंने नवरात्र के पावन पर्व को स्वच्छता से जोड़ने की अपील करते हुए कहा कि मां भगवती की अनुकम्पा तभी प्राप्त होती है जब स्वच्छता का वास होता है। सभी लोग संकल्प लें कि गांव की पगडंडियों, नालियों, सड़कों पर गंदगी नहीं फैलाएंगे। खुले में शौच नहीं करेंगे। गांवों में साप्ताहिक सामूहिक श्रमदान कर स्वच्छता अभियान चलाएंगे। सीएम ने कहा कि स्वच्छता होगी तो बीमारी से बचेंगे और बीमारी पर खर्च होने वाला पैसा विकास व स्वावलंबन को बढ़ावा देने पर खर्च होगा।

गांव के तालाबों को बनाएं रामगढ़ताल जैसा सुंदर व आकर्षक

मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर का रामगढ़ताल विकास का नया मॉडल है। गांवों के तालाबों को अमृत सरोवर के रूप में विकसित कर उन्हें रामगढ़ताल की तरह सुंदर और आकर्षक बनाया जा सकता है। इससे रामगढ़ताल की तरह गांव के तालाब भी फिल्मों की शूटिंग के केंद्र बन सकते हैं। उन्होंने कला का सम्मान करने, कलाकारों को प्रोत्साहित करने तथा शांति के साथ पर्व मनाने की अपील की।

गर्भवती की गोदभराई, शिशुओं का अन्नप्राशन कराया सीएम ने

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाल विकास परियोजना के स्टाल पर जाकर तीन गर्भवती महिलाओं को पोषण टोकरी देकर गोदभराई की। साथ ही तीन शिशुओं को दुलार कर उनका अन्नप्राशन कराया। स्वस्थ बालक-बालिका प्रतिस्पर्धा में उत्कृष्ट तीन बच्चों को उपहार प्रदान किया। सीएम ने इस दौरान दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, संकेत मूकबधिर विद्यालय तथा समाज कल्याण विभाग के स्टालों का अवलोकन कर बच्चों से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी ली।

दिव्यांगजन को जरूरी उपकरणों का उपहार

लोकार्पण समारोह के दौरान मुख्यमंत्री ने मंच से चार दृष्टिबाधित विद्यार्थियों को स्मार्ट केन व स्मार्ट फोन का उपहार प्रदान किया।
इस अवसर पर 700 दिव्यांगजन को उनके सामान्य जीवनयापन के लिए उपयोगी संसाधन-उपकरण प्रदान किए गए। 100 दिव्यांगजन को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल, 50 को ट्राइसाइकिल, 50 को व्हीलचेयर 200 को स्मार्ट केन, 100 को हियरिंग एड्स (कान की मशीन), 50 को एमआर किट, 50 को लैप्रोसी किट तथा 100 को कृत्रिम अंग (हाथ, पैर, कैलिपर्स आदि) वितिरत किए गए। मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल, ट्राइसाइकिल व व्हीलचेयर विरतण की रैली को सीएम योगी ने हरी झंडी दिखाई। मंच पर आकर उन्होंने पीएम आवास योजना, आयुष्मान योजना, कृषि एवं उद्यान विभाग की योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन और पीएम स्वनिधि योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र देकर लाभान्वित किया।

ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा पर की पुष्पांजलि

स्टेडियम व प्रेक्षागृह का लोकार्पण करने से पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने गुरुदेव ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया। साथ ही महाविद्यालय परिसर में पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपने संकल्प को दोहराते हुए पौधरोपण किया। महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में स्थापित प्रतिमा का लोकार्पण पिछली नवरात्र में सीएम योगी ने ही किया था।

पैवेलियन जाकर छात्र-छात्राओं से मिले सीएम, खेलकूद के प्रति किया प्रेरित

सीएम योगी ने प्रेक्षागृह एवं एवं स्टेडियम के पैवेलियन का फीता काटकर लोकार्पण करने के साथ ही प्रेक्षागृह के अंदर जाकर वहां की सुविधाओं का तथा पैवेलियन के ऊपर जाकर स्टेडियम का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने पैवेलियन में बैठे छात्र-छात्राओं के बीच जाकर उनसे मुलाकात की, ग्रुप फोटो खिंचवाई। उनसे आत्मीय संवाद कर उन्हें पढ़ाई के साथ खेलकूद की गतिविधियों में भी भाग लेने को प्रेरित किया।

यूपी में खेल को नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे मुख्यमंत्री: गिरीश चंद्र यादव

लोकार्पण समारोह में प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गिरीश चंद्र यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में खेल को नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में पहली बार मेरठ में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना की जा रही है। 1947 से 2017 तक युवा कल्याण विभाग के सिर्फ 81 स्टेडियम थे। 2017 के बाद दो साल कोरोना प्रभावित होने के बावजूद सिर्फ पांच साल में 41 नए स्टेडियम बन गए हैं। मुख्यमंत्री ने पदक विजेता खिलाड़ियों के लिए धनराशि दोगुनी कर दी है। खिलाड़ियों का आहार भत्ता बढ़ाया गया है। योगी सरकार ने खेल को रोजगार का भी माध्यम बनाया है। इसी सिलसिले में पदक विजेता खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी देने का निर्णय सीएम योगी द्वारा किया गया है।

विकास की गंगा बहा ग्रामीण क्षेत्रों को मजबूत कर रहे सीएम योगी : रविकिशन

लोकार्पण समारोह में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए सांसद रविकिशन शुक्ल ने कहा कि सीएम योगी पूरे प्रदेश में विकास की गंगा बहाते हुए ग्रामीण क्षेत्रों को मजबूत कर रहे हैं। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र में स्टेडियम की इतनी बड़ी सौगात देकर खेल प्रतिभाओं के लिए राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मेडल जीतने की संभावनाओं का मार्ग प्रशस्त किया है। विकास कार्यों को गिनाते हुए सांसद श्री शुक्ल ने “जली को आग कहते हैं, बुझी को राख कहते हैं, जो स्टेडियम, एम्स, आयुष विश्वविद्यालय बना दे, हर गरीब का कल्याण करे, उसे पूज्य योगी आदित्यनाथ कहते हैं” तथा “जवन कब्बो ना रहल अब बा, यूपी में सब बा” का स्लोगन देकर जनता में जोश का संचार कर दिया। कैम्पियरगंज के विधायक फतेह बहादुर सिंह ने कहा कि सीएम योगी के नेतृत्व में हो रहे विकास कार्यों से जनता में अपार उल्लास है। कैम्पियरगंज विधानसभा क्षेत्र में राजकीय महाविद्यालय, स्टेडियम की सौगात देने के साथ ही मुख्यमंत्री ने इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के कार्यों व जरूरी सुविधाओं की झड़ी लगा दी है।

इस अवसर पर भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं एमएलसी डॉ धर्मेंद्र सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती साधना सिंह, महापौर सीताराम जायसवाल, गोरखपुर ग्रामीण के विधायक विपिन सिंह, सहजनवा के विधायक प्रदीप शुक्ल, पिपराइच के विधायक महेंद्रपाल सिंह, बांसगांव के विधायक डॉ विमलेश पासवान, एमएलसी ध्रुव त्रिपाठी, अपर मुख्य सचिव खेल नवनीत सहगल, खेल निदेशक आरपी सिंह, उत्तर प्रदेश मत्स्य विकास निगम के अध्यक्ष रमाकांत निषाद, भाजपा के जिला प्रभारी अजय सिंह गौतम, जिलाध्यक्ष युधिष्ठिर सिंह, महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता, ब्लॉक प्रमुख जंगल कौड़िया बृजेश यादव, ब्लॉक प्रमुख कैम्पियरगंज अश्वनी जायसवाल, नगर पंचायत पीपीगंज के चेयरमैन गंगा प्रसाद जायसवाल आदि भी मौजूद रहे।

स्टेडियम व प्रेक्षागृह में यह सुविधाएं

महंत अवेद्यनाथ की स्मृति में बने स्टेडियम में 250 व्यक्तियों बैठने के लिए पवेलियन एवं 300 मीटर का 8 लेन का सिंथेटिक रनिंग ट्रैक तैयार किया गया है। इसके अलावा 15 गुणे 15 मीटर का कुश्ती ग्राउंड भी बना है। महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में 5.80 करोड़ की लागत से तैयार प्रेक्षागृह की क्षमता 462 व्यक्तियों के बैठने की है। प्रेक्षागृह में दो ग्रीन रूम, दो रिहर्सल रुम, वीवीआईपी रुम एक, कुश्ती, बैडमिंटन एवं टेबल टेनिस हाल, पुरुष, महिला एवं दिव्यांग के लिए प्रसाधन की सुविधा है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement